नये साल में इसी माह से काशीवासियों को मिलने लगेगी अनेकों सौगात, पढ़िए

नये साल में पूरी दुनिया देखेगी में काशी विश्वनाथ मंदिर का विस्तारित अति भव्य स्वरूप

- उपहार के रूप में मिलेगी सड़क, फ्लाईओवर, आरओबी, विद्युत उपकेंद्र, वाहन पार्किंग स्थल

- अलग अंदाज में दिखेगा गोदौलिया-दशाश्वमेध रोड, कई अस्पतालों में बेड का होगा इंतजाम

- नौ कुंड-तालाबों की बदल जाएगी सूरत, बाबतपुर हवाईअड्डे पर चालू करेंगे नया एटीसी टावर



सुरोजीत चैटर्जी

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस को नये साल 2021 में सड़कों व नये पुलों समेत कई और सौगात मिलेगी। जनपद की जनता को यह उपहार मिलने के बाद उम्मीद है कि न सिर्फ शहर की यातायात व्यवस्था सुधरेगी बल्कि कई स्तर पर अन्य व्यवस्था भी बेहतर हो जाएगी। नववर्ष में काशीवासियों को कई सड़कें, फ्लाईओवर सहित पुल वगैरह के तौर पर विभिन्न बुनियादी इंफ्रास्ट्रक्चर मिलेंगे। वहीं, काशी विश्वनाथ मंदिर का विस्तारित रूप भी दुनियाभर को दिखने लगेगी।

जनपद में तमाम निर्माणधीन परियोजनाएं नये साल में पूर्ण करने का लक्ष्य है। उनकी टाइम लाइन भी निर्धारित है। यदि सबकुछ ठीक-ठाक रहा तो वाराणसी की जनता को इसी जनवरी माह से ही इंफ्रास्ट्रक्टर के तौर पर सौगात मिलने का सिलसिला शुरु हो सकता है। यह क्रम आगामी दिसंबर माह तक जारी रहेगा।

नववर्ष में सबसे पहले पांडेयपुर में 50 बेड का महिला अस्पताल अनावसीय भवन, जिला न्यायालय में 16 कक्षीय न्यायालय भवन, अस्सी घाट से राजघाट तक क्रूज संचालन समेत गोदौलिया से दशाश्वमेध घाट तक सुंदरीकरण के बाद नये कलेवर में नागरिकों के सामने होगा।

इसी प्रकार फरवरी माह में सम्पार-20 स्पेशल सारनाथ में थ्री लेन फ्लाईओवर, आयुर्वेदिक अस्पताल भदरासी में 50 बेड का एकीकृत चिकित्सालय सौगात के रूप में मिलेंगी। आगे के अन्य महीनों में भी कुछ न कुछ विकास कार्य पूर्ण होकर जनता के लिए उपलब्ध कराए जाएंगे।

इसी क्रम में मार्च के महीने में भी कई प्रोजेक्ट पूर्ण हो जाएंगे।  उशके बाद अगस्त महीने में श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के विस्तारीकरण कार्य पूर्ण कर लिये जाने का टार्गेट है। तय वक्त में यह परियोजना पूरी कर ली गयी तो संभावना जतायी जा रही है कि बाबा के दरबार के विस्तार का अतिभव्य स्वरूप सितंबर माह से दिखने लगेगा। जून माह में भी कई सौगात मिलने की उम्मीद है।

नये साल में मिलने वाले सौगातों की यह है लागत

- एनएच-56 सुल्तानपुर-वाराणसी सेक्शन, एनएच-233 घाघरा ब्रिज-वाराणसी सेक्शन तथा एनएच-29 वाराणसी-गाजीपुर सेक्शन समेत रिंग रोड फेज-2 पैकेज-1 तथा पैकेज-2 की लागत 3814.14 करोड़ रुपये। शिवपुर-फुलवरिया-लहरतारा मार्ग सम्पार-4 पर फोर लेन फ्लाईओवर 54.37 करोड़ रुपये, सम्पार-5सी पर फोर लेन फ्लाईओवर 52.61 करोड़ रुपये, वरुणा नदी पर पुल 34.65 करोड़ रुपये, कोनिया घाट वरुणा नदी पर पुल 26.21 करोड़ रुपये, सम्पार-20 स्पेशल सारनाथ थ्री लेन फ्लाईओवर 50.17 करोड़ रुपये, सम्पार-21एध् 2टी बाबतपुर-कपसेठी मार्ग पर फोरलेन फ्लाईओवर 38.10 करोड़ रुपये, बाबतपुर-कपसेठी मार्ग पर वरुणा नदी पर टू लेन पुल 19.13 करोड़ रुपये, शिवपुर-लहरतारा-फुलवरिया फोर लेन 166.14 करोड़ रुपये, चितईपुर-जंसा-कपिलधारा मार्ग 97.03 करोड़ रुपये, अमरा चैराहा-भिखारीपुर तिराहा मार्ग 29.87 करोड़ रुपये, झाम की मड़ई-नरायनपुर मार्ग 2.44 करोड़ रुपये, काशी विश्वनाथ मंदिर विस्तारीकरण 345.27 करोड़ रुपये, भदरासी के आयुर्वेदिक अस्पताल में 50 बेड का वार्ड 6.41 करोड़ रुपये, सीएचसी सारनाथ 6.81 करोड़ रुपये, महिला अस्पताल पांडेयपुर में 50 बेड का हॉस्पिटल 21.88 करोड़ रुपये, सिगरा में रूद्राक्ष 186.00 करोड़ रुपये, गोदौलिया में मल्टी स्टोरी वाहन पार्किंग 19.55 करोड़ रुपये, बीएचयू में अंतरविश्वविद्यालयीय प्रशिक्षण केंद्र 107.00 करोड़ रुपये, बीएचयू में 80 शिक्षकों के लिए आवासीय फ्लैट 60.63 करोड़ रुपये, जोधपुर कॉलोनी बीएचयू में 160 आवासीय फ्लैट 121.26 करोड़ रुपये, मदन मोहन मालवीय कैंसर सेंटर बीएचयू में डॉक्टर-नर्स हॉस्टल एवं धर्मशाला 130 करोड़ रुपये, बीएचयू में डबल सीटेड 200 कक्ष बालिका हॉस्टल 28.78 करोड़ रुपये, आईटीआई भवन 2.75 करोड़ रुपये, जिला न्यायालय में 16 कक्षीय न्यायालय भवन 39.74 करोड़ रुपये, इलेक्ट्रिक बस चार्जिंग स्टेशन 21.63 करोड़ रुपये, सर्किट हाउस में ऽाूमिगत वाहन पार्किंग 19.16 करोड़ रुपये, सिंधोरा पुलिस स्टेशन में आवासीय भवन 5.23 करोड़ रुपये, अस्सी घाट से राजघाट तक क्रूज संचालन कार्य 10.71 करोड़ रुपये, गोदौलिया- दशाश्वमेध घाट विकास 10.77 करोड़ रुपये, रामेश्वर में विकास कार्य आठ करोड़ रुपये, शाही नाला का पुनरुद्धार 84.58 करोड़ रुपये, रमना एसटीपी 161.31 करोड़ रुपये, रामनगर एसटीपी 72.91 करोड़ रुपये, भेलूपुर में सोलर पावर प्लांट 17.24 करोड़ रुपये, अलईपुर में जीआईएस उपकेंद्र 56.05 करोड़ रुपये, नगवां जीआईएस उपकेंद्र 22 करोड़ रुपये, नौ कुंड-तालाबों का सुंदरीकरण 18.95 करोड़ रुपये, बाबतपुर एयरपोर्ट पर नया एटीसी टावर एवं टेक्निकल ब्लॉक 17 करोड़ रुपये।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल