काशी विद्यापीठ में शोध के लिए निकलेगा आवेदन, अब साल में दो बार होगी पीएचडी की प्रवेश परीक्षा

नए शोध अध्यादेश में की गई है यह व्यवस्था



मनोज कुमार

वाराणसी। शोध के इच्छुक विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर है। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ पीएचडी के लिए आवेदन निकालने वाला है, हालांकि इस अभी कोई तिथि तय नहीं हुई है। उम्मीद है कि इसी महीने आवेदन निकल सकता है। बीते दिनों आईक्यूएसी (इंटरनल क्वालिटी कंट्रोल सेल) की बैठक में साल में दो बार शोध प्रवेश परीक्षा कराने को लेकर हुई थी। जिसपर विश्वविद्यालय ने अमल किया है। विश्वविद्यालय प्रशासन साल में दो बार पीएचडी की प्रवेश परीक्षा कराने की तैयारियां भी शुरू कर दी है। हाल ही में हुए विद्यापरिषद की बैठक में पारित किये गये नये शोध अध्यादेश में यह व्यवस्था की गई है। 

विश्वविद्यालय के इस फैसले से पीएचडी के इच्छुक उन तमाम छात्रों को सहुलियत मिलेगी,जो शोध में रूचि रखते हैं। विश्वविद्यालय प्रशासन के इस निर्णय के बाद शोध के इच्छुक विद्यार्थियों को लंबे समय समय तक शोध में पंजीकरण के लिए इंतजार भी नहीं करना होगा। कुलसचिव डॉ. साहब लाल मौर्या ने बताया कि नए शोध अध्यादेश के मुताबिक विश्वविद्यालय में तैयारियां चल रही है, संभवतरू इसी महीने प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन निकाले जा सकते हैं। हालांकि अभी कोई तिथि तय नहीं है। 


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

नलकूप के नाली पर पीडब्लूडी विभाग ने किया अतिक्रमण, सड़क निर्माण में धांधली की सूचना मिलते ही जांच करने पहुंचे सीडीओ, जमकर लगाई फटकार