पिता-पुत्री को वाहन ने मारा धक्का, पिता की मौत, छाया मातम



जनसंदेश न्यूज 

सुहवल/गाजीपुर। थाना अन्तर्गत ढढनी मलसा मार्ग पर बीते सोमवार की देर शाम को करीब आठ बजे मलसा की तरफ से आ रही तेज रफ्तार चार पहिया वाहन के धक्के से अपने भिक्की पर अनाज का बोरा लाद रहे घाटमपुर गाँव निवासी शिवप्रसाद गुप्ता पुत्र रामजनम 45 व उनकी पुत्री अनिता 13 वर्ष गंभीर रूप से जख्मी हो गये। घटना की जानकारी होते ही लोगों ने बाईक से वाहन का पिछा किया। लेकिन वह कुछ दूर जाने के बाद लोगों की आखों से ओझल हो गया। हादसे की सूचना पर वहां लोगों की भारी भीड़ इकट्ठा हो गई। 

सूचना मिलते ही पुलिस व परिजन मौके पर पहुँच लोगों की सहायता वाहन के जरिए घायल पिता पुत्री को जिलाचिकित्सालय ले गये। जहां डाक्टरों ने शिवप्रसाद गुप्ता को मृत्यु घोषित कर दिया। जबकि घायल पुत्री अनीता की हालत गंभीर देख उसे वाराणसी ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया। लोगों को जब मौत की सूचना मिली तो परिजनों में जहाँ कोहराम मच गया। वहीं गांव में सिपाया छा गया। मृत व्यापारी की पत्नी सुशीला देवी व अन्य लोगों का रो-रोकर बुरा हाल था। मृत व्यवसाई के घर नाते रिश्तेदारों व अन्य लोगों का जमावडा लग गया। वहीं पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 

फिलहाल पुलिस धक्का मारकर फरार चालक व वाहन की तलाश सरगर्मी से कर रही है। मृत व्यवसाई के परिजनों के मुताबिक रोज की तरह अपनी छोटी पुत्री अनिता को भिक्की से लेकर ढढनी मलसा रोड पर स्थित हनुमान मन्दिर के पास एक किसान से कुछ अनाज खरीदने के बाद बोरे में भर रहे थे। इसी दौरान मलसा की तरफ से आ रही तेज रफ्तार चार पहिया वाहन आता दिखा लोग कुच समझ पाते इसके पहले ही उसने अनाज लाद रहे पिता-पुत्री में जोरदार टक्कर मार दी हादसा इतना गंभीर था कि व्यापारी का वाहन हवा में कुछ दूर तक उछलने के बाद जमीन पर आ गिरा जबकि दोनों पिता-पुत्री कुछ दूर तक  सडक पर ढमानिया खाते रहे जो पूरी तरह से खून से लथ-पथ हो चुके थे। मृत ब्यवसाई के छह पुत्रियाँ क्रमशरू रिंकू ,उजाला,मनीषा,संगीता अनीता, व निराशा है, जिनमें सबसे बडी दो बहनों की पहले ही शादी हो चुकी है। जबकि तीसरे स्थान पर मनीषा की शादी रेवतीपुर गांव में तय है जो मई में होना निर्धारित है। 

इस मामले में प्रभारी निरीक्षक सुदेश कुमार सिंह ने बताया कि मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्मार्टम के लिए भेज दिया गया है। जबकि घायल पुत्री का इलाज वाराणसी में जारी है, कहा कि फरार चालक व वाहन की तलाश की जा रही है, उन्होंने बताया कि पीड़ित परिजनों की तरफ से अभी किसी तरह की लिखित सूचना नहीं मिली है मिलते ही आवश्यक वैधानिक कार्यवाई की जायेगी।

पुत्री की शादी से पहले पिता की उठी अर्थी

सुहवल। पुत्री मनीषा के हाथ पीले होने से पहले ही पिता की अर्थी उठी परिजनों को इस बात अंदाजा भी नहीं था कि आज वह हम सबको छोड चल बसेगें, परिजनों ने बताया कि उनकी इच्छा थी कि अपनी छोटी पुत्री की शादी शाही अंदाज में करने की थी, लेकिन शायद ऊपर वाले को कुछ और ही मंजूर था।

अब कौन देख-रेख करेगा छह बहनों का

सुहवल। पति की मौत के बात पत्नी सुशीला रोते-बिलखते यह कह रही थी कि आखिर अब परिवार का देखरेख कौन करेगा। रोते हुए कहा कि उनके पति ने कहा था कि जब तक हम है किसी तरह की चिन्ता नहीं होगी, वह अपने इच्छा अनुसार पुत्रियों को अच्छे स्कूल में पढाया कामयाब बनाना चाहते थे।


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी