लोकलज्जा के भय से मां-बाप ने ही बेटी को उतार दिया मौत के घाट

जमालपुर में हुई युवती की हत्या का पुलिस ने किया पदार्फाश



जनसंदेश न्यूज

मीरजापुर। लोक लज्जा के भय व बेटी के कार्यशैली से तंग आकर पिता व माता ने एक साथ मिलकर अपनी बेटी को मौत के घाट उतार दिया, जहां शव को सिवान में फेंक दिया था। जमालपुर थाना क्षेत्र के जमालपुर गांव में 5 जनवरी को सिवान में एक अज्ञात युवती का शव मिला था। युवती के शव पर चोट के निशान थे, जिसके बाद पुलिस चैकीदार की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच में जुटी थी। 

घटना के अगले दिन युवती का शिनाख्त अंजली उर्फ पुष्पा उम्र 17 वर्ष के रूप में हुआ था। शव मिलने के दो दिन बाद पुलिस इस हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए मृतका के पिता अमरनाथ बिहार व मां शिवकुमारी देवी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। घटना का खुलासा करते हुए एसपी नक्सल महेश सिंह अत्रि ने बताया कि लड़की के चाल व चरित्र व लोग लज्जा के भय के कारण पिता व मां ने अपनी बेटी का गला दबाकर हत्या करने के बाद शव को सिवान में फेंक दिया था। 

पूछताछ में पिता ने बताया कि उनकी लड़की घर से बिना बताए कही चली जाती थी, जिससे परिवार की मान मयार्दा धूमिल हो रहा था। 2 जनवरी को भी अंजली उर्फ पुष्पा घर से बाहर चली गयी थी, जहां रात्रि लगभग 10 बजे घूम कर वापस आई। जिसके बाद पिता अमरनाथ व माता शिव कुमारी ने रात में घूम कर आने का कारण पूछा, जहां बार-बार बिना घर पर बताएं घूमने चले जाने का कारण पूछा तो पुष्पा ने उनसे मतलब ना होने की बात कही। इस बात पर माता-पिता ने कहा कि गांव में हमारी बदनामी हो रही है, ऐसा क्यों कर रही हो। जिसके बाद पुष्पा व उसके माता-पिता में झड़प हो गई। रोज रोज की बात से तंग आकर पिता व माता ने बदनामी से बचने को लेकर 2 जनवरी की रात में ही दुपट्टे से गला कसकर हत्या कर दिया। घटना में प्रयुक्त आला कत्ल दुपट्टा को बरामद कर लिया गया है। 

दो दिन तक शव कमरे में रखा बंद

अपनी बेटी का गला दबाकर हत्या करने के बाद पिता और माता ने शव को 2 जनवरी को ही कमरे में बंद करके चले गए थे। घटना के दो दिन बाद माता-पिता वापस घर पर आए, वही शव को ले जाकर पास के सिवान में फेंक दिया। घटना के बाद जब पुलिस ने शव को बरामद कर जांच में जुटी तो पता चला कि माता-पिता ने ही हत्या कर शव को ठिकाने लगाया था।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल