बनारस में बहुआयामी होगा किसान कल्याण मिशन

सूबे में छह जनवरी से शुरुआत, पशुपालन, बागवानी आदि विभागों की भी हिस्सेदारी

- कृषकों की आय दोगुनी करने के लिए व्यापक स्तर पर समग्र रूप से की जाएगी पहल

- प्रत्येक सप्ताह बुधवार को विकास खंडों में कृषकों के लिए लगेंगे मेले और प्रदर्शनियां

- नये एफपीओ की भागीदारी करेंगे तय, महिला किसानों के दिया जाएगा अधिक महत्व



सुरोजीत चैटर्जी

वाराणसी। किसानों की आय दोगुनी करने के लिए शासन अब ‘किसान कल्याण मिशन’ की शुरुआत करेगा। इसे अगामी छह दिसंबर को लॉन्च करेंगे। तीन हिस्से में तैयार इस बहुआयामी मिशन में पहला कृषि व सहवर्गी सेक्टर की प्रदर्शनी व डिमांस्ट्रेशन, दूसरा कृषि गोष्ठी में नयी जानकारी और योजनाओं का प्रचार-प्रसार और तीसरा कृषि कल्याण की संचालित योजनाओं का लाभ मौके पर ही पात्रों को देंगे।

शासन ने किसान कल्याण मिशन को सुचारु रूप से क्रियांवित करने के लिए कृषि समेत कई विभागों की भागीदारी तय की है। उनमें उद्यान, पशुपालन, मत्स्य, रेशम, सहकारिता, सिंचाई, लघु सिंचाई, नेडा, विद्युत, ग्राम्य विकास, पंचायती राज, वन, बाल विकास एवं पुष्टाहार, गन्ना, खाद्य एवं रसद, आदि महकमे शामिल हैं। ब्लॉकों में लगने वाले कृषि मेलों व प्रदर्शनियों के दौरान स्वीकृति-पत्र, सर्टिफिकेट, केसीसी व कृषि यंत्र और पुरस्कार आदि वितरण और जागरूकता गोष्ठियां भी होंगी।

मौके पर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के आवेदनों की त्रुटियों का निस्तारण होगा। कार्यक्रम में नये कृषि उत्पादन संगठन (एफपीओ) को भी आमंत्रित करेंगे। महिला किसानों को अधिक महत्व देंगे। प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने इस बारे में जिलों के निर्देश देते हुए विकास खंडों पर मिशन का आयोजन करने के लिए माइक्रो प्लानिंग बनाने को कहा है। जिलों में किसान कल्याण मिशन छह जनवरी से आरंभ होकर कई सप्ताह तक चलेगा।

प्रत्येक सप्ताह बुधवार को विभिन्न ब्लॉकों में गोष्ठी, प्रदर्शनी, मेला का आयोजन करेंगे। तहसील दिवस या सरकारी छुट्टी के दिनों में यह कार्यक्रम नहीं होंगे। वहीं, कृषि विभाग एक ‘किसान कल्याण माइक्रो साइट’ पोर्टल बनाकर उसमें सूचनाएं फीड करेंगे। मिशन के कार्यक्रमों के दौरान किसानों से किये गये संपर्क और उनसे हुई बातचीत समेत उनके फोन तथा व्हाट्सएप नंबर भी एकत्र किये जाएंगे।


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी