लौट आया पुनवासी.....11 वर्ष बाद मिले परिजन तो छलकीं आंखे, बहन बोली, धन्यवाद डीएम साहब



जनसंदेश न्यूज

मीरजापुर। पाकिस्तान की जेलों में कई बरस यातनाओं को सहने के बाद अब पुनवासी घर वापस आने के लिए निकल दिया है। अपने भाई से मिलने की आस छोड़ चूकी बहन जब नए भाई से मिली तो तो रक्ता रत्ता आंसू बाहर आ गया, जहां निवर्तमान जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल को धन्यवाद दिया। 11 साल पहले राजस्थान घूमने गए पुनवासी सरहद पार करके बॉर्डर उस पार पाकिस्तान की सरहद में चला गया था, जिसके बाद से पुनवासी पाकिस्तान के ही जेल में बंद था। 

पाकिस्तान की जेल में कई वर्षों तक यातनाओं को सहने के बाद जब पुनवासी की रिहाई हुई व कागजात वेरिफिकेशन के लिए जिला प्रशासन के पास आया तब जाकर पुनवासी का पता लग पाया। जिले के भरूहना निवासी पुनवासी 24 साल की उम्र में राजस्थान घूमने के लिए गया हुआ था, जहां बार्डर पार कर पाकिस्तान में चला गया था, जहां जासूसी के आरोप में लाहौर के जेल में में कैद था। पुनवासी के लापता होने के कुछ ही वर्ष बाद माता पिता का देहांत हो गया, जहां अब जर्जर मकान भी गिर गया है।

अपने देश में आने के बाद पुनवासी बीएसएफ की देखरेख में अमृतसर में रुका हुआ था ,जहां बहन के पास उसे लाने को पैसे नहीं थे, जिसके बाद निवर्तमान जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल ने परिजनों को वापस लाने का भरोसा दिलाया था, जहां उसे लाने के लिए प्रशासनिक खर्च पर कुछ लोगों को भेजा था। अमृतसर से पुनवासी जिले के लिए रवाना हो चुका है। पुनवासी जब अपने बहन से मिला तो उसके परिजनों ने जिलाधिकारी को धन्यवाद कहा और लिखा धन्यवाद जय हिंद सर आपकी वजह से आज मैं अपने भाई से मिल पाई हूं।


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी