‘मेरा घर मेरा विद्यालय’ कैंपेन के तहत बच्चों को शिक्षित कर रहे ये टीचर्स



जनसंदेश न्यूज़

वाराणासी। देशभर में कोरोनावायरस का कहर जारी है। ऐसी स्थिति में देश के सभी स्कूल की परिस्थितियां सामान्य होने तक बंद रखने का फैसला लिया गया है। बच्चों की पढ़ाई का नुकसान न हो इसी के चलते उत्तर प्रदेश में शिक्षा विभाग की ओर से एक नई पहल की शुरुआत की गई है। मेरा घर मेरा विद्यालय अभियान के तहत ऑनलाइन शिक्षा से वंचित छात्रों को अब टीचर सरकारी स्कूल के बच्चों को घर-घर जाकर ही पढ़ाई के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

इस अभियान के तहत आराजी लाइन विकास खंड के कचनार प्राथमिक विद्यालय के टीचर्स रोज सुबह 10 बजे से 3 बजे तक घर में ही मुहल्ला स्कूल लगाकर और घर पर ही अभिभावक बच्चे को पढ़ने को कह रहे हैं। उक्त सरकारी स्कूल के टीचर्स पूनम सिंह, सुमैय्या अंसारी, सीमा त्रिपाठी, कुसुम गिरी, सुरेखा गुप्ता, उषा वर्मा का कहना है कि इसका उन्हें अच्छा रिस्पांस मिल रहा है. एक्शन एड द्वारा संचालित स्टार 3 परियोजना के जिला समन्वयक राजकुमार गुप्ता ने इस दौरान अभिभावकों को जागरूक कर कह रहे है। 

उन्होंने कहा कि वह बच्चे से बालश्रम नहीं करवाएंगे। बच्चों को सिर्फ पढ़ने के लिए कहेंगे। इसके बाद 4 से 5 बजे तक खेल और 8.00 से 9.00 बजे तक कहानी सुनाने की एक्टिविटी भी बताई जा रही है। शुक्रवार को कई ड्रॉपआउट बच्चों का नामांकन भी उक्त विद्यालय में राजकुमार गुप्ता ने प्रधानाध्यापक डॉक्टर शंभुनाथ तिवारी से मिलकर करवाया।


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी