अधिशासी अभियंता ने चहेते ठेकेदार को दिया कार्य, करोड़ों के कार्य का नहीं किया आॅनलाइन टेंडर



जनसंदेश न्यूज 

गाजीपुर। समाज कल्याण निर्माण निगम के अधिशासी अभियंता ने बिना टेंडर किए ही करोड़ो के कार्य  चहेते ठेकेदार को आवंटित कर दिया है। यह आरोप सर्वदलीय युवा संघर्ष समिति के महासचिव आनन्द मोहन सिंह ने लगाया है। उन्होंने इस संबंध में डीएम एमपी सिंह से शुक्रवार को  लिखित शिकायत किया है। महासचिव ने पत्र के माध्यम से बताया कि शासन से जिले में तीस हेल्थ सेंटर का निर्माण कार्य प्रस्तावित है।  अधिशासी अभियंता ने नियम को ताक पर रखकर  ई-टेण्डरिंग के बजाय टेबुल टेंडर कर दिया है। वहीं अधिकारी अपने चहेते ठेकेदार को कार्य आवंटित कर कार्य शुरू करा  दिया है। आरोप लगाया कि अधिशासी अभियंता चहेते ठेकेदारो से कार्य के बदले मोटी रकम वसूला है।  निर्माण कार्य की बात करें तो वहां भी घटिया सामग्री का इस्तेमाल किया जा रहा है। डीएम एमपी सिंह से मांग किया कि इसकी निष्पक्ष जांच कराई जाए। ताकि हेल्थ सेंटर में हो रहे कार्य में गुणवत्ता आए।

दरअसल, शासन से समाज कल्याण निर्माण निगम के तहत जिले में तीस हेल्थ सेंटर कार्य निर्माण के लिए एक करोड़ 86 लाख रूपए प्रस्तावित  है। जिनमें प्रत्येक सेंटर का निर्माण 6 लाख 20 हजार से होना है। यह सेंटर विकास खंड  बिरनों में- 6, मनिहारी- 5, जखनियां 6, सैदपुर 6, सादात 7 बनने है। इन केंद्रो के लिए शासन से दिसंबर माह की शुरूआत में ही कार्य आंवटित हुआ था। जिसको लेकर विभाग को आनलाइन टेंडर निकालने की प्रक्रिया कर कार्य शुरू कराना था। इस मामले में अधिशासी अभियंता अनिरूद्ध प्रसाद से फोन पर संपर्क किया गया लेकिन उनका फोन नहीं उठा।  


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी