बलिया में लाइनमैनों ने खिंचवाया युवकों से नंगा तार, विद्युत प्रवाहित होने से एक की मौत, नौ झुलसे

-विद्युत लाइन ठीक करने के दौरान प्रवाहित हुई बिजली

-घटना के बाद मौके से फरार हुए लाइनमैन, मचा कोहराम



जनसंदेश न्यूज़

बिल्थरारोड/बलिया। उभांव थाना क्षेत्र के ग्राम फरसाटार की परती पर खराब विद्युत लाइन को ठीक करने में प्रवाहित विद्युत का शिकार होकर दलित समाज के जहां नौ लोग झुलस हो गए, वहीं सत्या (14) पुत्र बनारसी की मौत हो गयी है। पुलिस ने मृत किशोर के शव को कब्जे में लेकर पीएम हेतु भेज दिया। घटना से गांव में कोहराम मचा है।

ग्रामीणों की माने तो घटनास्थल पर एक पोल टूट गया था। इसके कारण दर्जनों उपभोक्ताओं की विद्युत आपूर्ति बाधित हो गयी थी। आरोप है कि उसको ठीक करने के लिए ग्रामीण अनेकों बार विभाग में भाग दौड़ लगा रहे थे। इस विद्युत खराबी को ठीक करने के लिए लाइनमैनों द्वारा पांच हजार रुपये की मांग किया जा रहा था। बाद में काम हो जाने के बाद पांच हजार रुपये देने की बात फाइनल हुई। ग्रामीण इसके लिए आपस में कुछ चंदा भी जुटा लिए थे। 

हल्का लाइनमैनों की टीम सोमवार की प्रातः मौके पर पहुंची और ग्राम के युवकों के सहयोग से नंगा तार को खिंचवाने का प्रयास किया जाने लगा। इसी बीच कहीं से प्रवाहित विद्युत दौड़ पड़ी और ग्राम के नौ युवक प्रवाहित विद्युत का जहां शिकार होकर झुलस हो गए, वहीं सत्या (14) पुत्र बनारसी की मौत हो गयी। घटना से मौके पर अफरा-तफरी मच गई। मौका पाकर लाइनमैन फरार हो गए। 

झुलसे प्यारे (30), अमित कुमार (13), करन (17), अमित कुमार (15), आदित्य कुमार (14), गौतम (28), वृद्घि चन्द (30), पिंटू कुमार (32) व प्रिंस (11) का ग्रामीणों के सहयोग से सीएचसी सीयर में प्राथमिक उपचार कराया गया। चिकित्सक डा. असलम अन्सारी के अनुसार सभी झुलसे लोगों की स्थिति संतोष जनक है और सभी खतरे से बाहर हैं। उन्होंने जांचोपरांत सत्या के मौत की पुष्टि की। घटना की जानकारी होते ही मृत किशोर के परिजन अस्पताल पहुंच गए, जहां उनकी चीख-पुकार से पूरा माहौल गमगीन हो गया।



घटना की सूचना पर अस्पताल पहुंचे अधिकारी

बिल्थरारोड। घटना की सूचना पाकर एसडीएम सन्त कुमार ने अस्पताल पहुंचकर झुलसे लोगों का हालचाल लेने के बाद चिकित्सक डा. असलम अंसारी से भी उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी प्राप्त की। उभांव थाने के प्रभारी निरीक्षक योगेन्द्र बहादुर सिंह, पुलिस चैकी प्रभारी सीयर आरके सिंह सहित भारी पुलिस बल भी अस्पताल पहुंच गया। पुलिस ने ग्राम फरसाटार में जाकर घटना स्थल का निरीक्षण भी किया। विद्युत विभाग की तरफ से अवर अभियंता अवधेश कुमार ने अस्पताल पहुंचकर घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए पीड़ित परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की और विभागीय स्तर से उचित मुआवजा दिलाने का भरोसा दिया।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल