ऊर्जा राज्यमंत्री रमाशंकर पटेल व सांसद अनुप्रिया पटेल की मुलाकात के बाद सियासत तेज, क्या दूर होगी कड़वाहट!



मुकेश पाण्डेय

मीरजापुर। यह मुलाकात मीठी सी है। उन लेटर बम के बाद जिसमें सांसद अनुप्रिया पटेल अपनी राजनीतिक रसूख को जिंदा रखने का दम दिखाया था। राजनीतिक प्रतिस्पर्धा से एक शिलान्यास को भी सांसद के दबाव के बाद ध्वस्त कराया गया था। जिले की सियायत के दो दिग्गज नेताओं के बीच बनी दूरियां इस मुलाकात के बाद थोड़ी सी कम होती हुई जरूर नजर आएगी। 

एक मंच पर न दिखने वाले जिले के ऊर्जा राज्यमंत्री रमाशंकर पटेल व अपना दल एस से सांसद अनुप्रिया पटेल की मुलाकात इस ठंड भरे मौसम में जिले की राजनीति में गर्माहट भर दिया। बुधवार को रमाशंकर पटेल ने सांसद अनुप्रिया पटेल से मुलाकात किया। मुलाकात कर जिले की स्थिति को लेकर चर्चा किया गया। ऊर्जा राज्यमंत्री रमाशंकर पटेल व अनुप्रिया पटेल की मुलाकात आने वाले दिनों में प्रदेश की राजनीति में बंद कई दरवाजों को खोलती हुई नजर आएंगी। 

अपना दल एस कोटा से इस बार जिले से सांसद बनी अनुप्रिया पटेल जब मंत्री नहीं बनी तो चर्चा यह थी कि रमाशंकर पटेल मंत्री बन सकते हैं, जहां कुछ ही दिनों बाद रमाशंकर पटेल मंत्री बन गए। रमाशंकर के मंत्री बनने के बाद यह भी बात चर्चा में आई कि आगामी लोकसभा चुनाव में यहां से अनुप्रिया की जगह रमाशंकर पटेल मैदान में होगे। 

रमाशंकर के मंत्री बनने के बाद अनुप्रिया पटेल व रमाशंकर पटेल एक दूसरे के साथ मंच साझा करने से भी दूरियां बनाने लगे। दोनों नेताओं के बीच में दूरियां भी बढ़ गई तो भाजपा के साथ रिश्तों में कड़वाहट होने की वजह से अनुप्रिया पटेल को कई बार राजनैतिक रसूख को साबित करने में मुंह की भी खानी पड़ी। आगामी पंचायत चुनाव के मद्देनजर जिले के दो बड़े कद्दावर नेताओं का एक मंच पर दिखने की उम्मीद बढ़ी है। 

भले ही राजनैतिक तालुकात कुछ दिनों तक अच्छे नहीं रहे, लेकिन इस मुलाकात के बाद परिवर्तन के आसार दिख रहे हैं। ऊर्जा राज्यमंत्री और अनुप्रिया पटेल की मुलाकात के बाद जिले की राजनीति के पंडित का कहना है कि आने वाले दिनों में जिले में अपना दल एस दबदबा बनाएगा। जाहिर है कि अनुप्रिया पटेल के मंत्री ना बनने के बाद से न सिर्फ उनके रसूख में कमी आई है बल्कि उनके कार्यालय जाने वालों की भी कमी सी हो गई है।


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी