बलिया में घर के कमरे में मिला मां-बेटी का शव, रिश्तेदार घर पहुंचा तो हुई जानकारी



जनसंदेश न्यूज़

बैरिया/बलिया। दोकटी थाना क्षेत्र के रामनगर गांव में बुधवार की सुबह एक घर से मां-बेटी का शव तब पाया गया, जब एक रिश्तेदार घर आया। घर में घुसते ही उसे दूर्गन्ध महसूस हुआ। कमरे में घुसा तो दो शव देखकर उसके होश उड़ गये। उसने तत्काल 112 नम्बर पर फोन किया। तत्काल दोकटी पुलिस मौके पर पहुंची और दोनो शवों को कब्जे में ले लिया।

जानकारी के अनुसार दोकटी थाना क्षेत्र के रामनगर निवासी मीरा देवी (55) पत्नी बच्चा सिंह तथा विवाहिता बेटी गुड़िया सिंह (38) गुजरात से लगभग 20 दिन पहले आई थी। दोनों के कमरे में पड़े शव को देखने से ऐसा प्रतीत हो रहा था कि एक सप्ताह पूर्व दोनों ने आत्महत्या किया है। कमरे के दरवाजे पर दो कीटनाशक की खाली शीशी पड़ी हुई थी। दोनों के शव में कीड़े लगे थे और दुर्गन्ध आ रहा था। पुलिस ने दोनो शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मौके पर फोरेन्सिक टीम ने निरीक्षण किया। वही, क्षेत्राधिकारी बैरिया आरके त्रिपाठी, थानाध्याक्ष अमित कुमार सिंह, उपनिरिक्षक महेश कुमार आदि मौजूद रहे।

पीएम रिपोर्ट से स्पष्ट होगा मौत का कारण : एएसपी

बैरिया। घटना की सूचना पर पहुंचे एएसपी संजय कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टतया कीटनाशक की शीशी मिलने से  मामला आत्महत्या का लग रहा है। आस-पास के लोगों के अनुसार दोनों मृतका की किसी से दुश्मनी भी नही थी। फिलहाल फोरेन्सिक टीम ने भी साक्ष्य लिया है। जब तक पोस्टर्माटम रिपोर्ट नही आ जाता, तब तक मौत का स्पष्ट कारण नही पता चल पायेगा।

दरवाजा बंद करने आया तो कमरे में शव मिला

बैरिया। दोकटी थाना क्षेत्र के कर्ण छपरा निवासी संजीत सिंह को किसी ने सूचना दिया था कि तुम्हारे नानी के घर का दरवाजा खुला है। वह ताला लेकर दरवाजा बन्द करने आया तो कमरे में शव मिला। उसने बताया कि मीरा सिंह एवं उनके पुत्र कोलकाता रहते है। नानी मीरा सिंह और मौसी गुड़िया सिंह अभी 20 दिन पहले गुजरात से आई थी।


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

कुशवाहा कांतःअनुभूतियों में हमेशा जिंदा रहेंगे कालजयी साहित्य के अमर शिल्पी