थाने में घूसकर दो सिपाहियों को पीटा, चाकूू से हमला कर बुरी तरह किया घायल



जनसंदेश न्यूज़

बिहार। राज्य में अपराधी बेखौफ हो गये है। सुरक्षा में दिन-रात मुस्तैद रहने वाली पुलिस पर बदमाशों ने थाने के अंदर ही हमला कर दिया। वाहन छुड़ाने थाना परिसर में घुसे युवकों ने न केवल लाठी-डंडे से पुलिसकर्मियों को पीटा, बल्कि पास रखे चाकूओं से ताबड़तोड़ हमला कर दो सिपाहियों को गंभीर रूप से जख्मी भी कर दिया। गनीमत अच्छी थी कि शोरगुल के बाद जुटे थाने के अन्य जवानों ने मोर्चा संभाल लिया।  

एनएच-84 स्थित कृष्णाब्रह्म चाैक पर एक बाइक और टैक्सी वाले के बीच विवाद वाहनों को सुलझाने पहुंची पुलिस दोनों की वाहनों को जब्त कर थाना चली गई। एएसआई बांका चाैधरी थाने के अपने अन्य सहयोगियों के साथ थाने में जरूरी कार्य निपटा रहे थे। इस बीच अपनी गाड़ी छुड़वाने थाना पहुंचे दोनों पक्ष तू-तू और मैं-मैं के बाद अचानक आपस में मारपीट करने लगे। जब पुलिस के जवानों ने उन्हें छुड़ाने का प्रयास किया तो अरियांव पंचायत के डुभुकी गांव निवासी टुनू कुमार, आदिल कुमार और गोलू कुमार तथा ब्रह्मपुर थाना के चंद्रपुरा गांव निवासी विकास कुमार यादव सहित अन्य ने थाना परिसर में ही सिपाहियों पर लाठी-डंडे के साथ चाकूओं से ताबड़तोड़ हमला शुरू कर दिए, जिसमें दो सिपाही गंभीर रूप से जख्मी हो गए। 

आरोपियों ने इतना ही नहीं, मौके पर मौजूद एएसआई की कॉलर पकड़ उनसे बदतमीजी भी की। फिलहाल, जख्मी सिपाहियों का एक निजी क्लीनिक में उपचार चल रहा है। बताया जाता है कि मारपीट करने वाले लोग लगभग बीस से तीस की संख्या में थे। लेकिन, थाने के अन्य सिपाहियों के एक्शन के बाद अधिकांश फरार हो गए। 

इस संबंध में थानाध्यक्ष कृष्णाब्रह्म ने बताया कि कानून को हाथ में लेकर मारपीट करना दंडनीय अपराध है। पुलिस इस मामले में चार को हिरासत में लेकर जेल भेजने की कार्रवाई कर रही है। जबकि, अन्य की पहचान के लिए आरोपितों से पूछताछ की जा रही 


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

नलकूप के नाली पर पीडब्लूडी विभाग ने किया अतिक्रमण, सड़क निर्माण में धांधली की सूचना मिलते ही जांच करने पहुंचे सीडीओ, जमकर लगाई फटकार