ग्राम प्रधान की पेड़ पर लटकती मिली लाश, सुहागरात वाले दिन हुए थे गायब, नई नवेली दुल्‍हन का उजड़़ गया सुहाग



जनसंदेश न्यूज़

लखनऊ। यूपी के पीलीभीत में ऐन सुहागरात वाले दिन गायब हुए दूल्हे की लाश पेड़ पर लटकती मिली। घटना की जानकारी होते ही पूरे परिवार में कोहराम मच गया। वहीं दूसरी तरफ नई नवेली दुल्हन का सुहाग मेहंदी का रंग उतरने से पहले ही उजड़ गया। जानकारी होते ही जब पुलिस मौके पर पहुंची तो परिजनों ने हत्या का आरोप लगाकर पेड़ से लाश उतारने से साफ मना कर दिया। 

गांव सिसइया साहब के परमाल सिंह यादव का बिलसंडा रामनगर कॉलोनी में मकान है। नौ दिसम्बर को उनके छोटे बेटे लोकेन्द्र की शादी हुई। लोकेन्द्र ग्राम प्रधान थे। बारात शाहजहांपुर के बंडा क्षेत्र के गांव नरेन्द्रपुर के महेन्द्र पाल की बेटी सरला से हुई। दस दिसंबर को लोकेन्द्र दुल्हन लेकर घर आ गये। इसी रात को करीब 11 बजे के आसपास फोन से बात करने के बाद प्रधान घर से बाहर निकले। 

सीसीटीवी फुटेज में उन्हें देखा गया। उसके बाद से वह गायब थे। परिजन मैनपुरी,  शाहजहांपुर से लेकर तमाम रिश्तेदारी में खोज रहे थे। बड़े भाई जोगेन्द्र की तहरीर पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की। सीडीआर निकलवाई। तीसरे दिन दोपहर तक कुछ पता नहीं चला तो पुलिस ने घर पहुंचकर दुल्हन से भी बात की। 

कई नंबरों का सीडीआर निकलवाया। परिजन और गांववाले प्रधान को खोज रहे थे। शनिवार शाम को घर से करीब दो किमी. की दूरी पर बिहारीपुर गांव में एक खेत से प्रधान की लाश पेड़ से लटकी मिली। कुछ ही देर में शिनाख्त हुई तो हजारों की तादायत में लोग मौके पर उमड़ पड़े। इंस्पेक्टर बिरजाराम भी पीछे से फोर्स लेकर मौके पर पहुंच गये।


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

कुशवाहा कांतःअनुभूतियों में हमेशा जिंदा रहेंगे कालजयी साहित्य के अमर शिल्पी