मीरजापुर में तिहरे हत्याकांड को लेकर सख्त हुए एसपी, सुस्त और लचर रवैये के कारण एसओ समेत चार लाइन हाजिर



जनसंदेश न्यूज

मीरजापुर। लालगंज थाना क्षेत्र के बामी गांव में 1 दिसंबर को तीन किशोरों की हत्या कर दी गई थी। जिनका शव दूसरे दिन बरामद किया गया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद पता चला कि तीनों की हत्या कर के नदी में फेंक दिया गया था। जिसका खुलासा करने के लिए पुलिस अधीक्षक अजय कुमार सिंह द्वारा लगातार प्रयास करते हुए कार्रवाई की जा रही थी। 

जिसमें सुस्त व लचीले कार्यशैली के कारण घटना के 15 दिन तक खुलासा न कर पाने के कारण पुलिस अधीक्षक अजय कुमार ने तत्काल प्रभाव से प्रभारी निरीक्षक लालगंज हरिशचन्द्र सरोज, चैकी प्रभारी लहंगपुर पंकज राय, उ0नि0 हैदर अली थाना लालगंज, हे0का0 सुदिष्ट कुमार पाण्डेय को एक तरफ जहां लाइन हाजिर किया गया। वहीं दूसरी तरफ कटरा कोतवाली के डंकीनगंज चैकी प्रभारी अनवर खां को भी पुलिस लाइन भेज दिया गया। एक थाना प्रभारी, दो चैकी प्रभारी, एक उपनिरीक्षक व एक हेड कांस्टेबल समेत पांच पुलिसकर्मियों की अचानक मंगलवार को पुलिस अधीक्षक द्वारा की गई लाइन हाजिर की सख्त कार्यवाही से अन्य पुलिसकर्मियों में हड़कंप मच गया।


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

दहेज के लिए मां को किया बच्चों से दूर, मधुर तरंग होटल मालिक पर गंभीर आरोप, रसूख के दबाव में काम कर रही पुलिस

नये साल में इसी माह से काशीवासियों को मिलने लगेगी अनेकों सौगात, पढ़िए