भारत के नए कृषि कानूनों के खिलाफ अमेरिका के कई शहरों में जोरदार प्रदर्शन

अमेरिका के कई शहरों के शांतपूर्ण ढंग से रैलियां निकाल रहे हैं और प्रदर्शन भी कर रहे


नई दिल्ली। भारत के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन अमेरिका और कनाडा के शहरों में भी पहुंच गया है। अमेरिका में कई शहरों के भारतीय मूल के लोग शांतपूर्ण ढंग से रैलियां निकाल रहे हैं और प्रदर्शन भी कर रहे हैं।

कैलिफोर्निया में प्रदर्शनकारियों की कारों के काफिले के सैन फ्रांसिस्को में भारतीय वाणिज्य दूतावास की ओर बढ़ने से बे ब्रिजपर लंबा ट्रैफिक जाम लग गया। यही स्थिति कई शहरों में रही। इंडियानापोलिस में बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी जुटे और भारतीय किसानों के समर्थन में जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व कर रहे गुरिंदर सिंह खालसा ने कहा कि किसान देश की आत्मा हैं। हमें अपनी आत्मा की रक्षा करनी होगी।

सिख नेता दर्शन सिंह दरार ने कहा, हम भारत सरकार से कानूनों का वापस लेने का आग्रह नहीं कर रहे हैं, बल्कि यह हमारी मांग है। इससे पहले, शिकागो में सिख अमेरिकी समुदाय के लोगों ने इकट्ठा होकर भारतीय दूतावास के सामने रैली निकाली थी। सिखों ने बे एरिया की तरह ही न्यूयार्क, डैलस, ह्यूस्टन, मिशिगन, शिकागो और वाशिंगटन डीसी में भी रैली निकालने की चेतावनी दी है।

अमेरिका में भारतीय मूल के लोगों द्वारा किसानों के समर्थन में निकाली जा रही रैलियों को वहां की सरकार गंभीरता से ले रही है। विरोध के स्वर कई और देशों में सुनाई देने लगे हैं। कनाडा में भी भारतीय मूल के लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।



Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी