पीएम रिपोर्ट में सनसनीखेज खुलासा, बलिया में कमरे के अंदर मृत मिली मां-बेटी की हुई थी हत्या



जनसंदेश न्यूज़

बैरिया/बलिया। दोकटी थाना क्षेत्र के रामनगर गांव में पिछले बुधवार को अपने मकान से मृत हालत में पाई गई माता व विवाहिता पुत्री का पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामला आत्महत्या से हत्या में तब्दील हो गया है। इस प्रकरण को लेकर नवागत पुलिस अधीक्षक विपिन टांडा ने पिछले चैबीस घंटे से मामले का पर्दाफाश करने के लिए एड़ी चोटी लगाए हुए हैं। पोस्टमार्टम के बाद पुलिस अभिरक्षा में परिजनों के साथ दोनों मृतिका का अंतिम संस्कार बलिया के महावीर घाट पर कर दिया गया। उसके बाद से पुलिस की शक की सुई हत्या की ओर चल रही है।

उल्लेखनीय है कि पिछले बुधवार को रामनगर गांव में स्वर्गीय बच्चा सिंह की पत्नी मीरा सिंह वह उनकी विवाहिता पुत्री गुडिया सिंह का शव उनके कमरे में मिला था। शव से काफी दुर्गंध आ रहा था।रामनगर गांव के किसी ने उनके रिश्तेदार को फोन किया था कि तुम्हारी नानी के मकान का दरवाजा खुला है। कर्णछ्परा से उनका रिश्तेदार संजीत सिंह ताला लेकर मकान में लगाने के लिए आया था। जब अंदर गया तो कमरे में मां बेटियों का शव मिला। इसके बाद उसने तत्काल पुलिस को फोन किया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस अधीक्षक के कान खड़े हो गए है।क्योंकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण हत्या पुलिस मान रही है। इसको लेकर पुलिस अधीक्षक ने मामले को पर्दाफाश करने के लिए पांच टीम गठित किया है। और रामनगर गांव मे शुक्रवार को पुलिस  एक एक व्यक्ति से मोहल्ले में  जानकारी जुटाने मे लगी रही। घटनास्थल पर पुलिस अधीक्षक ने कई चीजों को बारिकी से खंगांला। मामले की गुत्थी सुलझाने के लिए  रामनगर गांव पुलिस की छावनी में तब्दील हो गया था।पुलिस अधिक्षक  के साथ क्षेत्राधिकारी बैरिया आरके त्रिपाठी थाना अध्यक्ष अमित कुमार सिंह, उपनिरीक्षक महेश कुमार के अलावा भारी संख्या में पुलिस बल रामनगर में मौजूद रहा।

क्या बोले एसपी

बैरिया। रामनगर में हुई मां बेटियों की हत्या के बाद मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक बिपिन टांडा से पूछने पर बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट का अवलोकन करने के बाद मुझे शक है, कि दोनों की हत्या हुई है। यह मामला आत्महत्या का नहीं है। पुलिस निष्पक्षता से एक एक बिंदु पर जांच कर रही है।घटना में जो लोग सम्मिलित होंगे उन्हें किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। शीघ्र ही घटना का पर्दाफाश किया जायेगा।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल