नए साल के बारे में बहुत डरावनी है बाबा वेंगा की भविष्यवाणी, बोले, तबाही मचाने वाली आपदाएं लेकर आएगा

मानवता के लिए काफी बुरा होगा साल 2021

अस्सी फीसदी से ज्यादा सच साबित हो चुकी हैं बुल्गारियां के इस संत की भविष्यवाणी

बाबा के पास लोग अपने जीने-मरने का अनुमान लगाने को लेकर आते और वे सच बतातीं



जनसंदेश न्यूज़

नई दिल्ली। साल 2020 कोरोना महामारी और कई आतंकी आपदाओं से दहला रहा। लोग अब नए साल का बसब्री से इंतजार कर रहे हैं, लेकिन बाबा वेंगा ने भविष्यवाणी की है कि आने वाला साल भीषण तबाही मचाने वाली प्राकृतिक आपदाएं लेकर आएगा। वेंगा वही बाबा हैं जिन्होंने 9ध्11 हमले के अलावा आतंकी संगठन आईएसआईएस के बारे में कई बड़ी भविष्यवाणियां कीं, जो सही साबित हुईं। साल 2021 के बारे में बाबा वेंगा की भविष्यवाणियों से हर कोई डर हुआ है। माना जा रहा है कि आने वाला साल भी कुछ खास बेहतर नहीं होगा।

बाबा वेंगा का जन्म बुल्गेरिया के स्ट्रूमिका में 31 जनवरी, 1911 को हुआ था। वैसे उनका पूरा नाम वांगलिया पांडेवा गुशतरोवा था, लेकिन लोग उन्हें प्यार से बाबा वेंगा पुकारते थे। बाद में यही नाम चलन में आ गया। जन्म के कुछ ही समय बाद बाबा वेंगा की मां नहीं रही। वहीं पिता को संदिग्ध जासूस मानते हुए जेल में बंद कर दिया गया। इसके बाद से बाबा वेंगा के हालात बदल गए। वे पूरी तरह से अपने आसपास के लोगों की दया और संवेदना पर निर्भर हो गईं। वहीं उनके खाने-पीने की व्यवस्था करने लगे।

इसी बीच बाबा वेंगा के साथ एक रहस्यमयी घटना घटी। किसी को हादसे के बारे में कुछ नहीं पता लेकिन बाबा वेंगा खुद अपनी टेस्टिमोनी में इसका जिक्र करती थीं। उनके मुताबिक एक जोरदार तूफान में घिरने के बाद वे जाने कहां पटक दी गईं। लंबी खोजबीन के बाद वे मिलीं तो आंखों में रेत भरी हुई थी और बाबा वेंगा दर्द से चीख रही थीं। वक्त के साथ उनके दूसरे जख्म तो भर गए लेकिन आंखों की रोशनी चली गई।

इसके बाद से बाबा वेंगा के साथ अलग सी बात हुई। उनके पास कोई ताकत आ गई, जिससे वे छोटी-मोटी बीमारियों का हाथों से ही इलाज करने लगीं, साथ ही साथ वे पूर्वानुमान लगाती, जो ज्यादातर सच साबित होते थे। इसी दौरान एक सैनिक उनके पास अपने भाई के हत्यारों का पता लगाने को आया। बाबा वेंगा ने बुल्गेरिया के इस सैनिक दिमित्र गुशतरोव को सच तो बताया, साथ ही वादा ले लिया कि वे कातिलों से बदले का ख्याल छोड़ दे। कुछ समय बाद यही सैनिक उनका जीवनसाथी बना।

इधर बाबा वेंगा की जिंदगी तेजी से बदल रही थी। वे बार-बार बुरी तरह से बीमार होतीं। डॉक्टर उनके बच न पाने की बात कहते और वे चमत्कारिक ढंग से उबर जातीं। इसी दौरान बाबा वेंगा की भविष्यवाणियां और सटीक होती गईं। वो दूसरे विश्व युद्ध का दौर था। बाबा के पास लोग अपने जीने-मरने का अनुमान लगाने को लेकर आते और वे सच बतातीं। साल 1996 में बाबा वेंगा की ब्रेस्ट कैंसर से मौत हुई, तब तक बड़े-बड़े राजनेताओं से लेकर आम लोग उनके मुरीद हो चुके थे। बाबा को खुद लिखना-पढ़ना ज्यादा नहीं आता था। वे बतातीं और लोग लिखा करते थे। इसी तरह से बाबा वेंगा की भविष्यवाणियां इकट्ठा हुईं। उनपर कई किताबें और फिल्में बनीं।

बाबा वेंगा द्वारा की गई 80 फीसदी भविष्यवाणियां बिल्कुल सच साबित हुई हैं। बाबा वेंगा सोवियत यूनियन के विघटन, 9/11 आतंकी हमला, प्रिसेंस डायना की मौत जैसी कई बातों को लेकर भविष्यवाणी कर चुकी थीं, जो बिल्कुल सच साबित हुईं। उन्होंने अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति के गंभीर रूप से बीमार होने की भी भविष्यवाणी की थी। अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप हैं। वेंगा की मानें तो वे बीमारी में सुनने की ताकत खो देंगे। और फिर उनपर कोई हमला भी होगा। साल 2021 के बारे में बाबा वेंगा ने बताया था कि ये साल मानवता के लिए काफी बुरा साल होगा। बाबा वेंगा ने चूंकि खुद कोई किताब नहीं लिखी और जो लिखा गया, उनके हवाले से लिखा गया, इसलिए बहुत से लोग इन बातों को काल्पनिक कह रहे हैं। दूसरी ओर बाबा वेंगा के समर्थकों को यकीन है कि ये सारी उन्हीं की कही हुई हैं। वैसे बता दें कि इस रहस्यमयी बुल्गेरियन महिला ने ये भी कह रखा है कि 5079 ईस्वी में दुनिया खत्म हो जाएगी।


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी