त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव: मतदाता सूची का वृहद पुनरीक्षण कार्य अब जनवरी तक

- राज्य निर्वाचन आयोग ने पुनरीक्षण कार्यक्रम की तिथि बढ़ायी

- दावा तथा आपत्तियां 28 दिसंबर से तीन जनवरी तक ली जाएंगी

- वोटर लिस्ट का अंतिम प्रकाशन 22 जनवरी को किया जाएगा



सुरोजीत चैटर्जी

वाराणसी। राज्य निर्वाचन आयोग ने त्रिस्तरीय पंचायतों की मतदाता सूची के लिए चल रहे वृहद पुनरीक्षण कार्यक्रम में संशोधन कर अभियान की तिथियां बढ़ा दी हैं। जिसके अनुसार अब दावा-आपत्तियां 28 दिसंबर से तीन जनवरी तक प्राप्त की जाएंगी और वोटर लिस्ट का अंतिम प्रकाशन 22 जनवरी को होगा।

आयोग ने पूर्व में जारी वोटर लिस्ट के वृहद पुनरीक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन की तिथि 29 दिसंबर निर्धारित की थी, जिसमें बदलाव कर अब यह तिथियां तय की गयी हैं। राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने इस बारे में शुक्रवार को संशोधित अधिसूचना जारी की। जिसके तहत ड्राफ्ट नामावलियों की कंप्यूटरीकृत पांडुलिपियां 23 दिसंबर तक तैयार की जाएंगी। ड्राफ्ट वोटर लिस्ट का प्रकाशन 27 दिसंबर को होगा। दावा-आपत्तियां 28 दिसंबर से लेकर तीन जनवरी तक प्राप्त करेंगे। जिसमें एक जनवरी 2021 को 18 वर्ष की आयु पूरी करने वाले सभी लोगों से तय प्रारूप में दावा प्राप्त किया जाएगा।

इसी अवधि में मतदाता सूची का निरीक्षण भी चलेगा। उसके बाद दावा-आपत्तियों का निबटारा चार से 11 जनवरी तक चलेगा। निस्तारित दावा-आपत्तियों की पूरक सूची की पांडुलिपियां बनाने व संबंधित कार्यों की प्रक्रिया 12 से 21 नवंबर तक होगी। सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी (पंचायत एवं स्थानीय निकाय) राजाराम वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि मतदाता सूची के वृहद पुनरीक्षण कार्यक्रम में इन सभी कार्यों के बाद त्रिस्तरीय पंचायतों की वोटर लिस्ट का अंतिम प्रकाशन 22 जनवरी को करेंगे।


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी