गाजीपुर में सीएसपी संचालक सहित दो हत्याओं में फरार चल रहा कुख्यात इनामियां शेरू गिरफ्तार



अजय सिंह उर्फ राजू

गाजीपुर। बरेसर पुलिस ने पच्चीस हजार इनामियां सहित दो अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल किया है। अभियुक्तों के पास से दो पिस्टल, मोटरसाइकिल  और लूट के एक लाख रुपए  बरामद हुआ।

बरेसर पुलिस ने तकरीबन दो माह पहले हुए सीएसपी संचालक से हुई लूट और एक अन्य व्यक्ति की हत्या के आरोप में फरार चल रहे दो आरोपियों को शुक्रवार को दबोच लिया। पुलिस की सख्ती से पूछताछ में दोनों आरोपियों ने अपना नाम रामअवध उर्फ शेरू निवासी रेंगा थाना बरेसर,  राहुल राय निवासी देवरिया थाना जमानियां बताया। एसपी डा. ओम प्रकाश सिंह ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि रामअवध उर्फ शेरू पर 25000 रुपए का इनाम घोषित था। 

दोनों आरोपियों के पास से दो पिस्टल और लूट के एक लाख रुपये और मोटरसाइकिल  बरामद हुई। इन आरोपियों को बरेसर थाना क्षेत्र के तिराहीपुर के पास हनुमान मंदिर से गिरफ्तार किया गया। बताया कि  जब पुलिस मुखबिर की सूचना पर वहां पहुंची तो कुख्यात आरोपियों ने पुलिस पर पिस्टल से गोली दाग दी। हालांकि, संयोग अच्छा रहा कि कोई पुलिस वाला हताहत नहीं हुआ। दरअसल, पुलिस लगातार उक्त मामले में दबिश दे रही थी, लेकिन सफलता प्राप्त नहीं हो पा रही थी। दो माह बाद बरेसर पुलिस के हाथ यह सफलता मिली है।

आरोपियों पर दर्जनों मुकदमें दर्ज

गाजीपुर। दोनों आरोपियों पर विभिन्न थानों में 14-14 आपराधिक मुकदमें पहले से ही दर्ज हैं। इसके अलावा 3 माह पूर्व शेरू और राहुल द्वारा गाजीपुर से बलिया जाते समय कठवामोड़ के पास एक वृद्ध से लूट, बीते 21 नवंबर को मरदह थाना क्षेत्र में गोली मारने संबंधित कई मामलों का खुलासा भी हुआ है।

गिरफ्तार टीम में शामिल

गाजीपुर। गिरफ्तार करने वाली टीम में बरेसर थानाध्यक्ष संजय कुमार, जितेन्द्र उपाध्याय,अवधेश सिंह राणा,  सुधीर शुक्ला,  यशवंत सिंह, निधि यादव, प्रकाश यादव, दिवाकर सिंह,  नीरज कुमार,  अमित कुमार, श्वेता सिंह,  खुशबू पाठक रहे। स्वाट टीम में प्र.नि. श्याम जी यादव, रामभवन यादव, राणा प्रताप सिंह, विनय यादव, आशुतोष सिंह, भाई लाल,  विकास श्रीवास्तव,  ओमप्रकाश शामिल रहे।

 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल