आजमगढ़ में डेढ़ साल की बेटी के साथ घर से मेकअप का सामान लेने निकली विवाहिता नहीं लौटी घर, परिजन परेशान

पति ने गुमशुदगी दर्ज कराने के लिए दिया प्रार्थना पत्र



जनसंदेश न्यूज

आजमगढ़। मार्टिनगंज तहसील क्षेत्र के बरदह गांव में गत आठ दिसम्बर को डेढ़ साल की बेटी के साथ घर से मेकअप का सामान लेने निकली विवाहिता घर नहीं पहुंची। काफी खोजबीन करने के बाद पति ने पत्नी और बेटी के गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने हेतु तहरीर दी। 

उक्त गांव निवासी कमलेश तिवारी पुत्र श्यामा चरण तिवारी ने थानाध्यक्ष बरदह को लिखित प्रार्थना पत्र देकर अवगत कराया कि उसका विवाह 14 दिसंबर 2014 को जिवली गांव निवासी रामविलास पांडेय की पुत्री आंचल के साथ हिंदू रीति रिवाज के साथ हुआ था। तीन बच्चे क्रमशः 5 वर्ष तथा 3 वर्ष व एक लड़की डेढ़ वर्ष की है। प्रार्थी के परिवार में 8 दिसंबर को शादी थी। मेरी पत्नी आंचल अपनी छोटी लड़की को साथ लेकर यह कह कर निकली की मेकअप का सामान लेने जा रही हूं। शाम तक घर नहीं लौटी। 

कमलेश ने रिश्दारो व कई जगह तलाश किया। लेकिन 14 दिसंबर तक दोनों का कुछ पता नहीं चल सका। कमलेश ने कहा कि मेरे प्रार्थना पत्र पर विधिक कार्रवाई करते हुए गुमशुदगी दर्ज करने की गुहार लगायी। इस संबंध में थानाध्यक्ष विनोद कुमार ने बताया कि प्रार्थना पत्र मिला है। जांच की जा रही है। आंचल के मोबाइल नंबर का सीडीआर खंगाला जाएगा तथा विधिक कार्रवाई की जाएगी।




Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

दहेज के लिए मां को किया बच्चों से दूर, मधुर तरंग होटल मालिक पर गंभीर आरोप, रसूख के दबाव में काम कर रही पुलिस

नये साल में इसी माह से काशीवासियों को मिलने लगेगी अनेकों सौगात, पढ़िए