जंगल में बेर खाने गये तीन चचेरे भाइयों का शव बंधी में उताराया मिला, मचा हड़कंप, गले पर है चोट के निशान



जनसंदेश न्यूज़

मीरजापुर। जनपद में एक बड़ी वारदात के बाद लोग सकते में आ गये। कुछ दिन पूर्व लापता हुए तीन चचेरे भाइयों का शव बंधी में उतराया मिला। घटना की जानकारी होते ही हड़कंप मच गया। मंगलवार शाम को तीनों भाई बेर खाने के लिए जंगल की तरफ गए थे, तभी से वह वापस नहीं लौटे थे।

सूचना के मुताबिक मिर्जापुर जिले के लालगंज थाना क्षेत्र के बामी गांव निवासी कक्षा आठ के छात्र शशांक तिवारी (15) पुत्र राकेश तिवारी, सुधांशु (15) पुत्र राजेश तिवारी, हरिओम (15) पुत्र मुन्ना तिवारी मंगलवार की दोपहर एक साथ धसड़ा के जंगल में बेर खाने गए थे, लेकिन देर शाम तक घर वापस नहीं आए।

उनके घर वापस न आने पर परिजनों को चिंता हुई और वे जंगल में ढूंढने निकले। देर रात पता न चलने पर परिजन घर लौट आए। सुबह होने पर परिजनों ने खोजबीन करने के साथ ही पुलिस को सूचना दी। 

दोपहर बाद तीनों के कपड़े लेहड़िया जंगल की बंधी के भीटे पर मिला। परिजनों ने पुलिस की मदद से बंधी में खोजबीन की तो तीनों का शव बरामद हुआ। बच्चों के गले में चोट का निशान देखकर परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है।


Popular posts from this blog

यूपी में शादी समारोह में बैंड और डीजे पर भी लगा रोक, जिला प्रशासन से नहीं लेनी होगी अनुमति लेकिन........

करवाचौथ पर नहीं दिलाई 12 हजार की साड़ी तो पत्नी ने शो रूम के अंदर ही पति को जमकर पीटा

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी