आरबीआई ने दी चेतावनी, इस ऐप्स से लिया लोन तो पड़ेगा महंगा, हो जाये सतर्क



जनसंदेश न्यूज़

नई दिल्ली। डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर आये दिन धोखाधरी के मामले बढ़ते जा रहे है। कई जाली कंपनियां ऐप तैयार कर रही हैं जिनके जरिए वो लोगों को लोन मुहैया करा रही हैं। भारतीय रिजर्व बैंक ने सभी ग्राहकों को अलर्ट किया है। आरबीआई ने बुधवार को कहा कि फर्जी प्लेटफॉर्म और ऐप के जरिये व्यक्तिगत ग्राहकों व छोटे कारोबारियों को आसानी से कर्ज मुहैया कराने का झांसा देकर धोखाधड़ी की जा रही है।

बताया कि ऐसे डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ग्राहकों को बिना विशेष दस्तावेज के लोन दिया जाता है। बदले में उनसे भारी-भरकम ब्याज और दूसरे चार्जेज भी वसूले जाते हैं। यही नहीं ग्राहकों के डेटा और मोबाइल फोन की जानकारियों का भी दुरुपयोग किया जाता है।

आरबीआई ने कहा कि ग्राहक इस तरह के किसी भी अनधिकृत ऐप को अपने केवाईसी दस्तावेज न दें। साथ ही अगर कोई एप या डिजिटल प्लेटफॉर्म झांसा देने की कोशिश करता है, तो संबंधित एजेंसियों से उनकी शिकायत भी करें। ग्राहक आरबीआई के ऑनलाइन पोर्टल सचेत आरबीआई.ऑर्ग.इन पर भी शिकायत भेज सकते हैं।

बैंक, आरबीआई से रजिस्टर्ड गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) और अन्य संस्थाओं जो राज्य सरकार के वैधानिक प्रावधानों के तहत द्वारा विनियमित हैं उनसे लोन लिया जा सकता है। इसलिए सिर्फ वहीं से लोन लें। साथ ही आपको कभी भी केवाईसी डॉक्यूमेंट्स किसी अनजान व्यक्ति, अनाधिकृत ऐप को नहीं देने चाहिए और ऐसी घटनाओं के बारे में संबंधित कानून प्रवर्तन एजेंसियों को सूचित करना चाहिए।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल