गाजीपुर में 14 वर्षों से दो भाइयों ने खलिहान की भूमि पर जमाया था कब्जा, सीएम के संज्ञान में आने पर चला प्रशासन का बुलडोजर



अजय सिंह उर्फ राजू

सुहवल/गाजीपुर। खलिहान की जमीन पर अवैध कब्जा कर बनाए गए मकान पर प्रशासन का बुलडोजर चला है। भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में मकान को ध्वस्त कर दिया गया। प्रशासनिक कार्रवाई के दौरान कोई विरोध नहीं हुआ। हालांकि मकान स्वामियों ने पहले ही घर खाली कर दिया था। वहीं ध्वस्तीकरण में आए खर्चे की वसूली के लिए नोटिस जारी की गई है। इसके साथ ही वीडियोग्राफी किया गया। ध्वस्तीकरण की प्रक्रिया साढ़े बारह बजे से दो बजे तक चली।  

थाना अन्तर्गत ढढ़नी भानमल राय स्थित मां चंडी माता मन्दिर के बगल में सड़क किनारे  खलिहान के नाम से गाटा संख्या 934 दर्ज है। जिसका कुल रक्बा करीब तीन विश्वा है। करीब तीन दशक पूर्व ढढ़नी भानमल राय के ही दो सगे भाई हीरा पटेल व घनश्याम पटेल चैदह वर्षों से इस जमीन पर अवैध रूप से कब्जा कर  पक्का आवासीय निर्माण करा लिया। इसकी शिकायत पर तत्कालीन लेखपाल ने 2006 में थाने में संम्बन्धित दोनों भाइयों के खिलाफ प्रदेश राजस्व संहिता ध्122 बी के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया था। 

दोनों भाइयों ने जमानियां तहसीलदार के यहां इस आदेश के खिलाफ  अपील दाखिल किया। उनकी अपील संबंधित न्यायालय ने खारिज कर बेदखली का आदेश जारी कर दिया। इसके बाद दोनों भाइयों ने  तत्कालीन डीएम न्यायालय में अपील दाखिल किया। जहां डीएम कोर्ट ने 2010 में अपील खारिज करते हुए तहसीलदार न्यायालय द्वारा दिए गये आदेश को बहाल रखा। न्यायालय द्वारा दोनों के खिलाफ 13 बार नोटिस निर्गत कर जमीन को कब्जा मुक्त करने का फरमान जारी किया गया, लेकिन दंबग खाली करने के बजाए पक्का निर्माण करते रहे।

गांव निवासी अंबुज राय ने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री व डीएम पोर्टल पर किए। जिसके बाद मुख्यमंत्री कार्यालय ने सख्त संज्ञान लेने व न्यायालय के आदेश के अविलम्ब पालन की हिदायत दी और जिला प्रशासन हरकत में आया। इस ध्वस्तीकरण से पहले दोनों भाइयों ने मकान को स्वतः खाली कर दिया।

इस मामलें में तहसीलदार जमानियां आलोक कुमार ने कहा कि खलिहान की जमीन पर कब्जा कर अवैध रूप से बने पक्के मकान को धवस्त कर दिया गया है। ध्वस्तीकरण में आए खर्चे को भी संम्बन्धित दोनों भाइयों से वसूला जायेगा आए खर्चे का ब्यौरा ले उन्हें नोटिस जारी की जायेगी। कार्रवाई के दौरान प्रभारी निरीक्षक बिन्द कुमार, राजस्व निरीक्षक इंद्रप्रताप, राजस्वकर्मी बृजकिशोर, विनित सिंह रामदरश कुशवाहा सहित भारी पुलिस फोर्स मौजूद रही।

 

Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल