कौन बनेगा करोड़पति के इस प्रश्न को लेकर भाजपा विधायक ने अमिताभ बच्चन पर कराया मुकदमा



जनसंदेश न्यूज़

नई दिल्ली। सोनी टीवी के चर्चित शो कौन बनेगा करोड़पति के होस्ट और बॉलीवुड दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन और केबीसी के निर्माताओं के खिलाफ भाजपा के एक नेता ने मुंबई में एफआईआर दर्ज कराई है। उन्होंने मांग किया है कि बॉलीवुड अभिनेता के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने कौन बनेगा करोड़पति के पूछे गये एक प्रश्न को लेकर आपत्ति जताई और अमिताभ पर कार्रवाई की मांग की है।

महाराष्ट्र के लातूर जिले के औसा से भाजपा विधायक अभिमन्यु पवार ने लातूर के एसपी निखिल पिंगले को एक शिकायत में कहा कि अमिताभ बच्चन और सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन के खिलाफ शुक्रवार के केबीसी के एक विशेष एपिसोड के दौरान पूछे गए एक सवाल पर कार्रवाई की जानी चाहिए। 

पवार ने अपने दो पेज के की शिकायत एक प्रति पुलिस अधिकारी को पोस्ट करते हुए लिखा, ‘हिंदुओं का अपमान करने और सद्भाव में रहने वाले बौद्धों और हिंदुओ के बीच कलह पैदा करने का प्रयास किया गया था।’इस एपिसोड में अमिताभ बच्चन के सामने हॉट सीट पर सामाजिक कार्यकर्ता बेजवाड़ा विल्सन और अभिनेता अनूप सोनी थे। 

इस प्रश्न को लेकर दर्ज कराई आपत्ति

अमिताभ बच्चन ने शो के दौरान 6.40 लाख रुपये के लिए एक अमिताभ बच्चन ने सवाल पूछा कि 25 दिसंबर 1927 को डॉ. बी आर अंबेडकर और उनके अनुयायियों ने किस शास्त्र की प्रतियां जलाईं? 

विकल्प: (ए) विष्णु पुराण (बी) भगवद गीता, (सी) ऋग्वेद और (डी) मनुस्मृति।

अमिताभ बच्चन ने तब कहा, ‘1927 में, अंबेडकर ने प्राचीन हिंदू ग्रंथ मनुस्मृति की प्रतियों को जलाया था, जो वैचारिक रूप से जातिगत भेदभाव और छुआछूत को उचित ठहराता है।’ इसी सवाल को पवार ने अपनी शिकायत में कहा कि सभी चार विकल्प हिंदू धर्म से संबंधित हैं। यह स्पष्ट है कि इस सवाल के पीछे का मकसद हिंदुओं की भावनाओं को आहत करना था। आपको बता दें कि भाजपा विधायक अभिमन्यु पवार महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फड़नवीस के करीबी सहयोगी रहे है। 




Popular posts from this blog

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल

साली के प्यार में आकर जीजा ने पत्नी और बेटी की कर दी निर्मम हत्या, 10 साल पहले किया था लव मैरिज

केन्द्र सरकार ने जारी की अनलॉक 5 की गाइडलान, इस तारीख से पूरे देश में खुलेंगे सिनेमा हॉल