बनारस में शातिर बदमाश ने तुड़वाई जमानत, एनकाउंटर से बचने के लिए पहुंच गया जेल

 


वाराणसी। कानून का खौफ शायद इसी को कहते हैं कि एक एनकांउटर में ढेर हुआ दूसरे बदमाशों की नींद हराम हो गई। तभी तो मंगलवार को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एसपी सिंह यादव की अदालत पुराने मामले में जमानत तोड़वाकर लक्सा के पट्टी निवासी शातिर अनिल यादव ने आत्मसमर्पण कर दिया।  

अधिवक्ता महेंद्र मोहन मिश्रा इकबाल हसन पपु  के जरिए कोर्ट में पहुंचा यह बदमाश। साल 2015 में पेशी के दौरान पुलिस से मारपीट में जमानत पर था। इसी प्रकरण में उसने खुद को सरेंडर किया। कुछ दिनों पहले लक्सा के पूर्व पार्षद के भाई के साथ विवाद में मारपीट की घटना हुई थी। उक्त प्रकरण के बाद से वह अस्पताल में था। माना जा रहा है कि जिला पुलिस की ओर से अपराधियों पर कार्रवाई के बाद उसने आत्मसमर्पण कर दिया। लक्सा  निवासी अनिल यादव पर कई मुकदमे दर्ज हैं। 

Popular posts from this blog

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी

फरवरी में होगा पंचायत चुनाव! यूपी बोर्ड की परीक्षाएं मार्च के बजाय अप्रैल में होने की चर्चा

ग्राम प्रधानों को दी गई राशि की जांच करेगी योगी सरकार, कार्यकाल में हुए सभी खर्च की कराई जायेगी आॅडिट