स्वर्णमयी सजा मां अन्नपूर्णा का दरबार, भक्तों की लगी लंबी कतार, चार दिनों तक देगी भक्तों को दर्शन



डॉ. दिलीप सिंह

वाराणसी। धनतेरस आज, स्वर्णमयी सजा मां का अन्नपूर्णा का दरबार। चार दिनों तक भक्तों पर आशीर्वाद संग धनवर्षा करेंगी, इसके बाद मां का पट बंद हो जाएगा। मां अन्नपूर्णेश्वरी का दर्शन करने को भक्त भी है आतुर। वर्ष में सिर्फ धनतेरस पर मंदिर का पट खुलने की वजह से परिसर में भक्तों की भारी भीड़ रहती है लेकिन इस बार कोरोना को देखते हुए मंदिर परिसर मंे खास व्यवस्था की गयी है। सभी को सामाजिक दूरी का पालन करते हुए मां का दर्शन करने को मिलेगा। 

मां अन्नपूर्णा दर्शन करने के लिए बुधवार की शाम से ही मंदिर के बाहर भक्तों की कतार लग गयी थी। भक्तों को कोई दिक्कत न हो इसके लिए बांसफाटक से लेकर गोदौलिया तक वहीं चौक से लेकर मैदागिन तक बांस-बल्लियों से बैरिकेडिंग कर दी गयी है। मां अन्नपूर्णा का दर्शन करने के लिए रात से ही भक्त कतारबद्ध रहे। 

अफसरों ने लिया मंदिर का जायजा

भक्तों को किसी प्रकार का कोई दिक्कत न हो इसके लिए बुधवार को मंदिर परिसर में महंत रामेश्वरी पुरी के साथ एसएसपी ने बैठक की और तैयारियों का जायजा लिया। चार दिवसीय दर्शन को लेकर एसएसपी ने कहा कि आम दर्शनार्थियों का प्रवेश गेट नं. एक सुबह 6 बजे से वही निकास राम मंदिर से कलिका गली में होगा। सामाजिक दूरी का पालन करते हुए सभी को मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा। एसएसपी ने आने जाने वाले मार्गों को देखा। 

मन्दिर में बने कंट्रोल रूम का भी उन्होंने जायजा लिया जहां से आने वाले भक्तों को कैमरे के माध्यम से ध्यान दिया जाएगा साथ ही माइक के द्वारा लगातार कोविड महामारी के बारे में जानकारी के साथ सामाजिक दूरी बना कर मां का दर्शन करेंगे। महंत रामेश्‍वरीपुरी ने कहा कि हमारी पहली प्राथमिकता होगी कि कोविड गाइडलाइन के साथ ही भक्तों को प्रवेश मंदिर में दिया जाएगा। पूरे मन्दिर को हर दो घण्टे पर सेनेटाइज किया जायेगा और प्रवेश द्वार पर ही थर्मल स्केनिग के बाद सेनेटाइज कर अंदर जाने दिया जाएगा।  

इसके बाद एसपी ज्ञानवापी महंत जी से मुलाकात के बात बताया कि विश्वनाथ मंदिर बाबा दर्शन करने वाले भक्तों को गेट नम्बर चार से प्रवेश दिया जाएगा। अन्नपूर्णा मन्दिर के लिए गेट नम्बर एक ढुंढिराज से प्रवेश मिलेगा। आए हुये भक्तों को कोविड के बाबत लाऊड इन हेलर से सुरक्षा कर्मी जागरूक करते रहेंगे। उन्होंने आस-पास के सुरक्षा प्वाइंट के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा अनावश्यक धक्का मुक्की न करे सभी नियम कायदे का पालन करे और प्रतिबंधित वस्तुओं को  बाहर ही रखें तभी परिसर में प्रवेश  मिलेगा। बैठक में एडीएम सिटी, एसपी सिटी, सीओ दशाश्वमेध समेत मंदिर प्रबंधन के सदस्य रहे।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल