सावधान! सेनिटाइजर लगे हाथों से न छुएं दीया व पटाखा, नहीं तो.....



रोशन जायसवाल

बलिया। त्योहारों का मौसम आ गया है। इसके चलते लोग लापरवाही बरतने लगे है। त्योहारों के इस मौसम में जरूरी है कि कोविड-19 संबंधी गाइडलाइन का पालन करें। ध्यान रखे कि सेनिटाइजर लगे हुए गिले हाथों से दीया एवं पटाखों को न छुए।

महामारी रोग विशेषज्ञ डॉ. जियाउल हुदा ने बताया कि सेनिटाइजर में इथाइल अल्कोहल होता है। यह  ज्वलनशील होता है। अच्छे सेनिटाइजर में 70 प्रतिशत से अधिक इथाइल अल्कोहल होता है। कोशिश करनी चाहिए कि कम से कम सेनिटाइजर इस्तेमाल करें और अधिक से अधिक बार हाथ धोएं। 

उन्होंने बताया कि कोविड-19 संक्रमण की वजह से लोग डिस इन्फेक्टेंट स्प्रे इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन आने वाले त्योहारों और शादियों के मौसम में इस तरह के स्प्रे के आस-पास दीया, पटाखों को नहीं रखें। यह सभी चीजें ज्वलनशील होती है और आग लगने की संभावना अधिक होती है। पटाखों से निकलने वाला धुआं फेफड़ों के लिए बहुत हानिकारक होता है। क्योंकि कोरोना वायरस सीधे तौर पर फेफड़ों को नुकसान पहुंचाता है। इसलिए कोशिश करें कि इस दौरान पटाखों को ना जला कर इको फ्रेंडली दीपावली मनाएं।




Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

नलकूप के नाली पर पीडब्लूडी विभाग ने किया अतिक्रमण, सड़क निर्माण में धांधली की सूचना मिलते ही जांच करने पहुंचे सीडीओ, जमकर लगाई फटकार