अवैध शराब फैक्ट्री का भंडाफोड़, चार अभियुक्तों सहित पांच लाख की अवैध शराब व उपकरण बरामद



प्यारेलाल यादव

चिरईगांव। चैबेपुर थानांतर्गत ग्राम पंचायत रूस्तमपुर में मुखबिर की  सूचना के आधार पर आबकारी विभाग की संयुक्त टीम द्वारा रुस्तमपुर स्थित रंगनाथ सिंह के मकान में अवैध शराब की फैक्ट्री पकड़ी गई। पुलिस ने मौके से मौके पर रंगनाथ सिंह उम्र 65 वर्ष, कीर्तिमान सिंह उम्र 24 वर्ष निवासी रुस्तमपुर तथा मंतोष यादव उम्र 27 वर्ष, आभा सिंह उम्र 58 वर्ष निवासी संदहा मौके को गिरफ्तार कर लिया। प्रेसवार्ता के दौरान मंतोष जोर-जोर से अपने बेगुनाह होने की दुहाई दे रहा था। 

पुलिस ने अभियुक्तों के कब्जे से 90 पेटी अवैध निर्मित शराब, भारी मात्रा में विभिन्न ब्रांड के रैपर व ढक्कन, नकली क्यूआर, और ड्रम में लगभग 200 लीटर स्प्रिट, कुल लगभग 4990 खाली सीसी बरामद किया गया। पुलिस ने सभी अभियुक्तों के खिलाफ धारा 60, 60(2), 60 क आबकारी अधिनियम व भारतीय दंड के तहत 272, 420, 467, 468 के तहत अभियुक्त को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। बरामद माल की कीमत 5 लाख आंकी गई है।  



आपको बता दें कि लॉकडाउन के दौर में चिरईगांव चैकी क्षेत्र के संदहा रिंग रोड पर अवैध शराब से भरी अल्टो कार पलट गई थी। जो भाजपा युवा मोर्चा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष वाराणसी संजय गुप्ता की बताई गई। उनके खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। इसके अलावा संजय गुप्ता की पैरवी की आरोप में निवर्तमान भाजपा के जिला महासचिव उमेश दत्त पाठक को संगठन से जिलाध्यक्ष द्वारा पदमुक्त कर दिया गया। पुलिस की लगातार कार्रवाई के बाद भी अब तक शराब तस्करों पर लगाम नहीं कसा जा सका है। 

गिरफ्तारी टीम में आबकारी निरीक्षक अभय कुमार सिंह, गुलाब सिंह, मनोज यादव, रामकृष्ण, अमित सिंह, शर्वेंद्र  प्रताप सिंह, एवं आबकारी हमराही, रामकृष्ण मिश्रा, नजमुल होदा सुनीता सिंह, सिद्दीकी, नरेन्द्र अवस्थी,आदि लोगमौके पर मौजूद रहे।




Popular posts from this blog

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी

फरवरी में होगा पंचायत चुनाव! यूपी बोर्ड की परीक्षाएं मार्च के बजाय अप्रैल में होने की चर्चा

ग्राम प्रधानों को दी गई राशि की जांच करेगी योगी सरकार, कार्यकाल में हुए सभी खर्च की कराई जायेगी आॅडिट