बलिया पहुंची पश्चिम बंगाल की टीम, इस गांव से युवती को किया बरामद, युवक हिरासत में



रोशन जायसवाल

बलिया। पश्चिम बंगाल से बलिया पहुंची ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम ने जनपद के गजियापुर गांव से युवती को बरामद कर लिया। बरामद युवती आठ दिन अपने घर से गायब हुई थी। पश्चिम बंगाल के कालिंपोंग जिले के गोरुबथान थाने में परिजनों ने मुकदमा दर्ज कराया था। जिसमें पुलिस के साथ-साथ ह्यूमन ट्रैफिकिंग के लिए काम करने वाली संस्था डुअर्स एक्सप्रेस भी जांच पड़ताल कर रही थी। 

बीते दिनों की जांच पड़ताल के दौरान गायब युवती का लोकेशन बलिया जिले में मिलीं। इस पर ह्यूमन ट्रैफिकिंग की टीम पुलिस के साथ बलिया पंहुच गई। युवती से एक बार हुई कुछ देर की बातचीत के आधार पर उसकी लोकेशन को पुलिस ने चिह्नित किया था। इसके बाद पहुंची टीम व पश्चिम बंगाल पुलिस ने थाने पहुंचकर थानाध्यक्ष आरएस नागर से मुलाकात कर उन्हें सारी बात बताई। 

इस पर पुलिस ने आनन-फानन में उस नंबर का सीडीआर निकलवाया और कुछ देर बाद ही पुलिस गजियापुर गांव में उसके घर पर पहुंच गईं, जहां युवती बीते कुछ दिनों से रह रही थीं। पुलिस के पूछताछ में युवती ने पुलिस को बताया कि वहां रह रहे गांव के ही युवक के साथ ही चली आई थीं। उसने पुलिस को बताया कि अब वह अपने घर जाना चाहती हैं। 

प्रकरण में युवती को साथ लेकर आने वाले युवक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। थानाध्यक्ष बांसडीहरोड आरएस नागर ने बताया कि पश्चिम बंगाल से गायब हुई युवती को बरामद हो गई है। उसे लेकर आये युवक को हिरासत में ले लिया गया है। उच्चाधिकारियों के निर्देश के आधार पर इस मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।




Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल