चिकित्सक तलवार लेकर मारने के लिए दौड़ा युवक, मरीज की मौत के बाद परिजनों का हंगामा, दर्जनभर से अधिक पर मुकदमा

 


शाहनवाज खान

ज्ञानपुर/भदोही। सामुदायिक स्वास्थ्य सुरियावां में गुरुवार की रात ग्रामीणों ने जमकर उत्पात मचाया। अराजक तत्वों ने अस्पताल में जमकर तोड़फोड़ करने के साथ ही चिकित्सक को मारने के लिए तलवार निकाल ली और उनकी तलाश में परिसर में दौड़ लगाते रहे। चिकित्सक को जान बचाने के लिए खुद को कमरे में बंद करके छिपना पड़ा। 

गुरुवार की रात कौडर गांव के एक व्यक्ति को हार्टअटैक का दौरा पड़ा। परिजन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सुरियावां लेकर पहुंचे, इमरजेंसी ड्यूटी में डॉ आनन्द स्वरूप तैनात थे, अस्पताल परिसर में अपने आवास पर थे। मरीज आने की जानकारी मिलते ही चिकित्सक ने मरीज को तुरंत भर्ती किया व देखभाल के उपरांत मरीज को मृत घोषित कर दिया। इससे नाराज लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। भीड़ में शामिल कुछ अराजक तत्वों ने अस्पताल परिसर में जमकर तोड़फोड़ की। दरवाजे और खिड़की के कांच तोड़ दिए। 

प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो अराजक तत्व चिकित्सक को मारने के लिए तलवार लेकर ढूंढ रहे थे। इमरजेंसी ड्यूटी में लगे चिकित्सक डॉ. आनंद स्वरूप ने खुद को एक कमरे में बंद कर के अपनी जान बचाई। घटना की जानकारी प्रभारी डॉ. आरबी पाठक को दी गई। डॉ. पाठक ने सुरियावां थाने पर फोन के माध्यम से जानकारी दी। सीएससी अधीक्षक ने पुलिस अधीक्षक को भी घटना की जानकारी दी। सुरियावां पुलिस मौके पर पहुंचकर जब तक स्थिति को संभालती तब तक अराजक तत्वों ने काफी तोड़फोड़ कर दी थी। 

सूचना मिलने पर सीएमओ डॉ. लक्ष्मी सिंह ने रात्रि में ही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सुरियावां का जायजा लिया। इस मामले में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अधीक्षक ने सुरियावां थाने में एक दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ लिखित तहरीर दी है। सीएचसी अधीक्षक की तहरीर पर सुरियावां पुलिस ने दो नामजद व एक दर्जन से अधिक लोगों पर सम्बन्धित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही में जुट गयी है।




Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

चकिया में देवर ने भाभी के लाखों के गहने और नगदी उड़ाये, आईपीएल में सट्टे व गलत आदतों में किया खर्च, एएसपी ने किया खुलासा

नलकूप के नाली पर पीडब्लूडी विभाग ने किया अतिक्रमण, सड़क निर्माण में धांधली की सूचना मिलते ही जांच करने पहुंचे सीडीओ, जमकर लगाई फटकार