बनारस में पुलिस व क्राइम ब्रांच ने कुख्यात मोनू चौहान को किया ढेर, दो पुलिसकर्मियों को भी लगी गोली

एक लाख का था इनाम, बीते दिनों महिला को मारी थी गोली

एसपी सिटी ने कहा, किसी घटना को अंजाम देने की फिराक में था



रवि प्रकाश सिंह

वाराणसी। वाराणसी पुलिस को रविवार की देर शाम बड़ी सफलता मिली। पांडेयपुर में महिला को गोली मारने वाले आरोपी मोनू चौहान को सारनाथ पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम में मुठभेड़ में मार गिराया। एनकाउंटर के दौरान आमने-सामने की गोलीबारी में दो पुलिसकर्मी भी चोटिल हुए। वहीं बुलेटप्रूफ जैकेट होने से क्राइम ब्रांच अमरेश सिंह बघेल और क्राइम ब्रांच प्रभारी अश्विनी पांडेय बाल बाल बच गए।

पुलिस के अनुसार, मुठभेड़ के दौरान चौकी प्रभारी राजकुमार पांडेय और क्राइम ब्रांच के कांस्टेबल विनय सिंह को गोली लगी है। उन्हें मलदहिया स्थित सिंह मेडिकल में भर्ती कराया गया। मुठभेड़ होने की जानकारी के बाद मौके पर एसपी सिटी समेत कई थानों की फोर्स पहुंच गई। पुलिस अधिकारियों के अनुसार दस हजार रुपये बकाए में महिला को गोली मारने के आरोपी मोनू पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था। 



एसपी सिटी विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि शातिर मोनू किसी घटना को अंजाम देने के लिए आ रहा है। इस दौरान सारनाथ के रिंगरोड पर लालपुर के समीप बाइक सवार बदमाश का पीछा पुलिस ने किया। मोनू ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर भागने का प्रयास किया। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने उसे मार गिराया। उसके सिर और पैर में गोली लगी। उसे अस्पताल लाया गया यहां जांच के बाद चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। क्राइम ब्रांच और सारनाथ पुलिस के अलावा लालपुर पुलिस भी मुठभेड़ के दौरान मौजूद रही।  

बताया जाता है कि शाम करीब सात बजे बदमाश के क्षेत्र में सक्रिय होने की जानकारी के बाद पुलिस कर्मी सक्रिय हुए और साढ़े सात बजे बदमाश संग मुठभेड़ शुरू हुई तो क्षेत्र में गोलियां तड़तड़ाने लगीं। पुलिस ने चारों ओर से बदमाश को घेर लिया तो उसने गोलियां चलाईं जो सीओ क्राइम ब्रांच अमरेश सिंह बघेल और वहां खड़े सिपाही के बुलेटप्रूफ जैकेट पर लगीं, लेकिन वे बच गए।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल