नशे में धुत एएनएम के पति ने लगाई बच्चे को वैक्सीन, एक की मौत, दूसरे की हालत गंभीर



संजय दुबे

मड़िहान/मीरजापुर। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पटेहरा के अधीनस्थ उप स्वस्थ्य सेंटर रैकरा में एएनएम विजया देवी के पति शिवप्रसाद द्वारा बीसीजी का टीका लगाने से 4 माह के दुधमुहे बच्चे की मौत के बाद दूसरे दिन दूसरे 5 माह के बच्चे की हालत बिगड़ी। 25 नवम्बर को पेंटावेलेंट नामक वैक्सिन गांव के 9 बच्चों को शिवप्रसाद द्वारा लगाया गया था। 

जिससे विजय शंकर गौड़ के 4 माह के बच्चे साजन की देर शाम 12 बजे मौत हो गयी थी, अभी उसका पोस्टमार्टम हुआ ही नही था कि गांव के ही जग्गू कोल के 5 माह के बच्चे की भी तबियत बिगड़ने लगी। आनन-फानन में उसके परिजन अस्पताल लेकर भागे हैं। वही मृत साजन के परिजनों ने आरोप लगाया है कि एएनएम के पति शिवप्रसाद शराब के नशे में टीकाकरण कर सभी 9 बच्चों को एक नई डिस्पोजल से टिका लगाए थे। जिसकी वजह से बच्चे की दर्दनाक मौत हो गयी। 

प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ यूएन सिंह की मानें तो एएनएम के स्थान पर अगर पति द्वारा टीकाकरण किया गया है तो यह कानून अपराध है, अगर परिजन प्रार्थनापत्र देते है तो मामले की जांच कर दोषी के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। ग्रामीणों की मानें तो 2008 से ही एनम विजया देवी को फालिस मारा हुआ है। यह पूरा प्रकरण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के पूरे स्टापों को जानकारी थी, फिर भी सुविधा शुल्क के चक्कर मे एएनएम के पति से कार्य करवाया जा रहा था। जिससे बच्चे की मौत हुई और वहीं दूसरे दिन दूसरे बालक की हालत बिगड़ गई। 




Popular posts from this blog

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल

साली के प्यार में आकर जीजा ने पत्नी और बेटी की कर दी निर्मम हत्या, 10 साल पहले किया था लव मैरिज

केन्द्र सरकार ने जारी की अनलॉक 5 की गाइडलान, इस तारीख से पूरे देश में खुलेंगे सिनेमा हॉल