काशी में पीएम: जल, थल, नभ से देव दीपावली की छटा निहारेंगे पीएम, कुछ इस तरह से है पूरा कार्यक्रम



जनसंदेश न्यूज़

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देवदीपावली के पावन मौके पर 30 नवंबर को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी आ रहे है। पीएम मोदी जल-थल-नभ तीनों स्थानों की अपनी काशी की अदभुत छटा निहारेंगे। काशी में पौने सात घंटे के प्रवास के दौरान 50 किमी की हवाई, 40 किमी की सड़क और करीब 10 किलोमीटर की जल मार्ग से यात्रा करेंगे।

प्रस्तावित कार्यक्रम के मुताबिक पीएम राजातालाब-हंडिया सिक्सलेन के उद्घाटन, देवदीपावली महोत्सव के तहत राजघाट पर दीपदान समेत कुछ अन्य कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी रहेंगे।

प्रारम्भिक प्रोटोकॉल के तहत प्रधानमंत्री दोपहर बाद 2.10 पर वाराणसी एयरपोर्ट पहुंचेंगे। सबसे पहले वें राजातालाब के पास खजुरी में 2447 करोड़ की लागत से तैयार राजातालाब-हंडिया सिक्सलेन का लोकार्पण करेंगे। इसके पश्चात् पीएम सेना के हेलीकाप्टर से गंगापार सूजाबाद पहुंचेंगे। जिसके बाद विश्वनाथ मंदिर पहुंचेंगे। मंदिर में दर्शन-पूजन के बाद वह विश्वनाथ कॉरिडोर का अवलोकन करेंगे।

राजघाट पर दीपदान के बाद छोटी सभा को संबोधित करेंगे। क्रूज के जरिए असंख्य दीपमाला से सजे गंगा के घाटों की भव्यता निहारने के बाद वह सारनाथ पहुंचेंगे। वहां भगवान बुद्ध के जीवन पर आधारित लाइट एंड साउंड शो देखने के बाद पीएम रात करीब 8.50 बजे बाबतपुर एयरपोर्ट रवाना होंगे। जहां से वें दिल्ली के लिए उड़ान भरेंगे। 


Popular posts from this blog

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी

1.5 करोड़ लेकर पत्नी ने किया पति का सौदा, किया प्रेमिका के हवाले

मेरी करनी का फल है लिखकर महिला दरोगा ने फंदे पर झूलकर दी जान