जीरो बजट में प्राकृतिक खेती का भी मॉडल बनेगा सेवापुरी, लखनऊ की टीम देगी ट्रेनिंग

- मॉडल ब्लॉक के रूप में विकसित किये जा रहे विकास खंड को खेती के क्षेत्र में भी अनूठा बनाने का प्रयास

- न्याय पंचायवार सात दिनी प्रशिक्षण के लिए लखनऊ से गुरूवार को आएगी टीम, पहले अफसर-कर्मचारी होंगे ट्रेंड

- प्रथम चरण की ट्रेनिंग के बाद दूसरे चरण में कृषकों को करायी जाएगी अन्य जिलों-राज्यों की फील्ड विजिट



सुरोजीत चैटर्जी

वाराणसी। मॉडल ब्लॉक के तौर पर विकसित किये जा रहे सेवापुरी विकास खंड को अब जीरो बजट में प्राकृतिक खेती का मॉडल ब्लॉक बनाने के तैयारी है। देशी गाय आधारित इस खेती के लिए सात दिनी प्रशिक्षण कार्यशाला गुरुवार से आरंभ होगी। इसके लिए लखनऊ की विशेषज्ञ टीम किसानों को प्रशिक्षित करने के पहले विभागीय अफसरों और कर्मचारियों को ट्रेंड करेगी।

एक एकड़ में बगैर अतिरिक्त धनराशि खर्च किये शून्य लागत पर मिट्टी को सुरक्षित रखते हुए बेहतर उपज लेने के उद्देश्य से यह कवायद है। शासन की मंशा है कि वाराणसी जनपद में सेवापुरी विकास खंड को इस दिशा में भी मॉडल ब्लॉक के तौर पर तैयार करने के बाद अन्य विकास खंडों समेत सूबे के विभिन्न जिलों में यह कार्यशैली अपनायी जाय। इसके लिए न्याय पंचायतवार उन किसानों को कार्यशाला में लाने की कवायद है जिनके पास न सिर्फ देशी गाय हैं बल्कि व प्राकृतिक एवं जैविक तकनीक अपनाकर खेती कर रहे हैं।



प्रथम चरण में यह किसान प्रशिक्षित होने के बाद अन्य कृषकों को ट्रेनिंग देंगे। दूसरे चरण में इन्हीं किसानों में से कृषकों को अन्य जनपदों और राज्यों की फील्ड विजिट करायी जाएगी जहां जीरो बजट में गौ आधारित खेती हो रही है। इस तैयारी के अंतर्गत सेवापुरी विकास खंड के एक दर्जन न्याय पंचायतों में से दो-दो न्याय पंचायतों की संयुक्त ट्रेनिंग चलेगी। गुरुवार को महकमे के अधिकारियों और कर्मचारियों को प्रशिक्षित करेंगे। उसके बाद छह नवंबर छह दिनों तक किसानों को ट्रेंड किया जाएगा। इसका पूरा खाका खींचा जा चुका है।

वर्कशॉप में प्रशिक्षक बताएंगे कि मात्र एक देशी गाय के माध्यम से किस प्रकार एक भी पैसा खर्च किये बगैर श्ून्य बजट पर एक एकड़ क्षेत्रफल में सफलतापूर्वक खेती संभव है। प्रतिदिन पूर्वाह्न 11 बजे से अपराह्न तीन बजे तक यह वर्कशॉप संचालित होगा। जिला कृषि अधिकारी सुभाष मौर्य ने बताया कि शून्य बजट मे गौ आधारित प्राकृतिक खेती की दिशा में सेवापुरी विकास खंड को मॉडल ब्लॉक बनाने का प्रयास है। बता दें कि ‘जनसंदेश टाइम्स’ ने गौ आधारित खेती को लेकर जनपद में आरंभ हुई कवायद के बारे में बीते 8 अक्टूबर को ही प्रमुखता के साथ खबर प्रकाशित की थी।




Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल