पोषण की पोटली लेकर टीबी से ग्रसित बच्चों के घर पहुंचे रेडक्रास सोसायटी के सदस्य



जनसंदेश न्यूज़

वाराणसी। रेडक्रॉस सोसाइटी ने शहरी क्षेत्र में टीबी रोग से ग्रसित 18 वर्ष से कम उम्र के 70 बच्चों को गोद लिया है। सोसायटी के सदस्यों द्वारा नियमित इन बच्चों की मॉनिटरिंग की जाती है। सोसायटी के सदस्य इन्हें नियमित रूप से स्वास्थ्यवर्धक पोषण जिसमें गुड़, लाई, चना, मूंगफली, प्रोटीन पाउडर, बिस्किट आदि भोज्य पदार्थ उपलब्ध कराते है। जिसे सदस्यों द्वारा ‘पोषण की पोटली’ नाम दिया गया है। 

महामहिम राज्यपाल आनन्दी बेन जी के आह्वान पर शुरू इस विशेष अभियान के तहत रेडक्रॉस द्वारा गोद लिए 63 टी.बी. रोग के बच्चे ठीक हो चुके हैं। इसी कार्यक्रम के तहत इस माह पुनः रेडक्रॉस सदस्यों द्वारा टीबी रोग के 70 बच्चे गोद लिए गए हैं। जिनकी नियमित देखभाल करते हुए उन्हें आवश्यक दवाइयों व सलाह के साथ साथ स्वास्थ्यवर्धक पोषण सामग्री दिया जा रहा है।  

अभी तक शहर में रेडक्रॉस सदस्यों ने टी.बी. रोग से ग्रसित 18 वर्ष से कम उम्र के 31 बच्चों से उनके घर जाकर संपर्क कर उनको स्वास्थ्य वर्धक खाद्य सामग्री व आवश्यक दवाई एवं सलाह दिया है। इस कार्य में रेडक्रॉस सचिव डॉ संजय राय, चेयरमैन विजय शाह, वाईस चेयरमैन डॉ एस एस गांगुली, वेदमूर्ति शास्त्री, डॉ अकबर अली, जे पी बालानी, बिमल त्रिपाठी, शेषनाथ राय, राजेश सिंह, डॉ. अरविंद गांधी, संतोष कुमार जैन सहित तमाम रेडक्रॉस सदस्य शामिल रहे। 




Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

कुशवाहा कांतःअनुभूतियों में हमेशा जिंदा रहेंगे कालजयी साहित्य के अमर शिल्पी

सेक्स पावर बढ़ाती है गोरखमुंडी, जानिए इसके सेवन का तरीका और फायदा