दिव्यांग की संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी के फंदे से लटकती मिली लाश, हत्या की आशंका



महर्षि सेठ

जौनपुर। जलालपुर थाना क्षेत्र के बेला गांव में कैलाश सिंह (58) नामक एक दिब्यांग की शुक्रवार को सुबह फांसी लगने से संदिग्धावस्था में मौत हो गई। इसकी जानकारी होते गांव में हडंकम्प मच गया। बड़ी संख्या में आस-पास के लोग घटनास्थल पर पहुँचे। घटना की सूचना पराऊगंज पुलिस चौकी इंचार्ज युगल किशोर राय को दी है। सूचना पाकर घटनास्थल पर करीब दो घंटा बाद पुलिस पहुँची और शव को नीचे उतवाया। 

चर्चा का विषय है कि दिब्यांग का बायाँ एक हाथ और पैर ठीक से काम नहीं करता था। लटकते शव के पास एक टेबल था जो गिरा भी नहीं था ऐसे में उसने फांसी कैसे लगाई? इसको लेकर लोग तरह- तरह का कयास लगाते रहे। फिलहाल पुलिस उनके मोबाईल को ट्रेस कर रही है कि मौत से पूर्व दिब्यांग की बात किन लोगों से हुई थी। जानकारी के मुताबिक उक्त अधेड़ दिब्यांग के परिजन मुम्बई मे रहते है। घर पर कोई नहीं रहता है। पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है। 

बताया गया कि सुबह पड़ोस के मंगला सिंह चाय लेकर उनके कमरे मे गये तो उनकी लाश पंखा से एक केबल तार से लटकती देखकर चौंक पड़े। फिर इसकी सूचना गांव मे जंगल में लगी आग की तरह फैल गई। ग्रामीणों के मुताबिक मंगला और उक्त मृतक साथ में खाना बनाकर खाते-पीते थे। उक्त मृतक अविवाहित थे। इनके बड़े भाई बटेश्वर सिंह मुम्बई में रहकर नौकरी करते है। उनका पूरा परिवार वहीं पर रहता है। मृतक कैलाश सिंह घर पर रहकर खेती-बारी का कार्य देखते थे।





Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल