मुख्तार अंसारी के होटल पर सीएम योगी का बुलडोजर, भारी फोर्स के साथ ध्वस्त किया गया होटल ‘गजल’

बाहुबली विधायक समर्थकों में मचा हड़कंप     



अजय सिंह उर्फ राजू

गाजीपुर। बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के आलीशान गजल होटल पर रविवार को जिला प्रशासन का बुलडोजर चला है। प्रशासन ने इसे ढाहने के लिए  पांच पोकलेन जेसीबी  सहित काफी मजदूर लगाए है। सबसे पहले उपरी तल के हिस्से को तोड़ा जा रहा है। होटल की तरफ आने जाने वाले रास्ते पर यातायात बंद कर दिया गया है। इस दौरान भारी पुलिस बल के साथ अधिकारी मौजूद रहें।  

मऊ विधायक मुख्तार अंसारी की पत्नी व बेटों के नाम से संचालित गजल होटल की ध्वस्तीकरण का मामला डीएम कोर्ट में था। शनिवार देर शाम परिजनों की अपील को डीएम की आठ सदस्यीय बोर्ड ने खारिज कर उनके घर पर नोटिस चस्पा कर दिया था। प्रशासन का आदेश मिलते ही होटल में काबिज दुकानदार अपने सामान निकाल कर खाली करने का कार्य शुरू कर दिए। ध्वस्तीकरण के समय महुआबाग व मिश्रबाजार को चारो तरफ से सील कर दिया गया था। 



रविवार की सुबह भारी फोर्स के साथ जिला प्रशासन ढहाने का कार्य शुरू कर दिया। उन्होंने ढाहने के लिए पांच पोकलेन जेसीबी सहित काफी सख्या में मजदूर लगा दिए। प्रशासन ने सबसे पहले होटल के उपरी तल तथा सीढ़ी व आगे के हिस्से को तोड़ना शुरू कराया। होटल के पास का इलाका पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। 

बतादें, बीते आठ अक्तूबर को महुआबाग स्थित गजल होटल को ध्वस्त करने का  आदेश एसडीएम प्रभास कुमार ने दिया था। कोर्ट ने मालिकान मुख्तार अंसारी के दोनो बेटों को अवगत कराया था कि प्रथम तल पर वर्ष 2003 मे रेस्टोरेंट के निर्माण का जो मानचित्र स्वीकृत कराया गया था। उसके स्थान पर एचडीएफसी बैंक व एटीएम आदि का निर्माण भूतल पर दूकानों के स्थान पर किया गया था। जिसकी स्वीकृति नहीं ली गई थी। ऐसे में अवैध तरीके से बनाए गए होटल के इस हिस्से को ध्वस्तीकरण कराया जाय, अन्यथा प्रशासन गिराकर खर्च भी वसूल करेगी। 

इस आदेश को मुख्तार अंसारी के परिजनो ने हाईकोर्ट में चुनौती दिया। हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान  डीएम कोर्ट में अपील करने का आदेश दिया। इसके बाद डीएम की आठ सदस्यीय बोर्ड ने इस अपील खारिज करते हुए एसडीएम के आदेश को बहाल कर दिया। कार्रवाई के दौरान एडीएम राजेश सिंह, एसडीएम प्रभास कुमार, एसडीएम सेवराई रमेश मौर्या, एसपी सिटी गोपीनाथ सोनी, क्षेत्राधिकारी ओजस्वी चावला, शहर कोतवाल विमल मिश्रा सहित भारी फोर्स मौजूद रही।  




Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल