चंदौली में टला बड़ा रेल हादसा, तेज गति से जा रही मालगाड़ी के एक्सल में लगी आग

छितो रेलवे फाटक पर तैनात गेटमैन ने दिखाई सतर्कता 



आरिफ हाशमी

चंदौली। क्षेत्र के छितो रेलवे फाटक पर तैनात गेटमैन की सतर्कता व सूझबूझ से शनिवार की रात एक बड़ा रेल हादसा होते-होते रह गया। चंदौली रेलवे स्टेशन से तेज गति से डाउन की ओर जा रही मालगाड़ी का हाट एक्शन धधकते देखा तो गेटमैन ने फौरन स्टेशन मास्टर को सूचना दी और तत्काल उसे रोका गया और चक्के में लगी आग को बुझाकर ट्रेन को बीच की पटरी से हटाने की कार्यवाही में रेल महकमा जुट गया। रेलवे के अफसरों की माने तो समय से सूचना नहीं मिलती तो ट्रेन आगे कभी भी पलट सकती थी। इस हादसे से उक्त ट्रैक पर कई घंटे यातायात प्रभावित रहा। 

दरअसल मालगाड़ी संख्या टीडब्लूएस कच्चा मालकर लेकर बिहार प्रांत की ओर जा रही थी उक्त ट्रेन चंदौली मझवार स्टेशन को पार कर जैसे ही छितो रेलवे फाटक के पास पहुंची। इसी बीच वहां झंडी दिखाने खड़े गेटमैन रवि कुमार ने मालगाड़ी के चक्के में लगी आग को देखा और फौरन इसकी सूचना स्टेशन मास्टर को दी। इसके बाद गार्ड को सूचित कर मालगाड़ी को रोक दी गयी।



 इसके बाद मौके पर पहुंचे रेल कर्मियों द्वारा आग को बुझाकर उसे पुनः चंदौली स्टेशन लाकर क्षतिग्रस्त बोगी को मालगाड़ी से अलग करके उसे गंतव्य के लिए रवाया कर दिया गया। इस हादसे से मध्य लाइन पर रेल यातायात पूरी तरह प्रभावित रहा। इस संबंध में स्टेशन मास्टर आरके बरनवाल ने बताया कि एक्शल में खराबी की वजह से आग लग गयी थी। गेटमैन की सतर्कता के कारण समय से गड़बड़ी का पता चल गया, जिसे दुरूस्त कर मालगाड़ी को गंतव्य के लिए रवाना कर दिया गया। मालगाड़ी मध्य लाइन पर खड़ी थी। इस वजह से रेल परिवहन पर कोई खास प्रभाव नहीं पड़ा। सुबह साढ़े चार बजे मालगाड़ी रवाना करके मध्य लाइन पर रेल यातायात सामान्य कर दिया गया।




Popular posts from this blog

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल

साली के प्यार में आकर जीजा ने पत्नी और बेटी की कर दी निर्मम हत्या, 10 साल पहले किया था लव मैरिज

केन्द्र सरकार ने जारी की अनलॉक 5 की गाइडलान, इस तारीख से पूरे देश में खुलेंगे सिनेमा हॉल