छात्रवृत्ति की मांग को लेकर एनएसयूआई जिलाध्यक्ष ने छात्रों के साथ सिंह द्वार पर दिया धरना



विजय सिंह

वाराणसी। कोरोना वैश्विक महामारी से पहले से ही आम जनमानस परेशान हो चुका है, उसके बाद सरकार की गलत नीतियों एवं जल्दबाजी में लिए गये अनुचित फैसलों से देश में गरीबी स्तर बढ़ी, लोग बेरोजगार हो गये, आर्थिक रूप से सभी कमजोर हो गये। उसके बावजूद सरकार द्वारा छात्रों का छात्रवृत्ति रोकना कायरतापूर्ण कार्य है। जिसके परिणामस्वरूप श्री राम कालेज की छात्रा ने फीस ना भर पाने से आहत होकर आत्महत्या कर ली।

जिस प्रकार छात्रों की इस सरकार में अनदेखी की जा रही है, उनके शिक्षा का एकमात्र वित्तीय सहायता को रोक कर उनको परेशान किया जा रहा है। बुधवार को एनएसयूआई जिलाध्यक्ष ऋषभ पाण्डेय व प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व में काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार (सिंह द्वार) पर छात्रों के छात्रवृत्ति ना मिलने एवं छात्र-हित में एक दिवसीय धरना दिया गया। 

विरोध का मुख्य कारण श्री राम कॉलेज की छात्रा ऐश्वर्या रेड्डी को न्याय दिलाना एवं भविष्य में इस प्रकार का कोई भी फैसला सरकार द्वारा ना लिया जाये जो की छात्र हित में ना हो। छात्रवृत्ति बहाल करने को लेकर विरोध में मुख्यरूप से प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश यादव जिला अध्यक्ष ऋषभ पाण्डेय, निर्भय सिंह, अभिषेक गिरी, भास्कर तिवारी, विशाल चौबे, प्रिंस पाण्डेय, गौतम शर्मा, महताब, सचिन कुमार, शिवम शुक्ला आदि लोग उपस्थित रहे।।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल