बंगाल टाइगर सौरभ गांगुली ने भाजपा को बताई ‘मन की बात’, क्या पश्चिम बंगाल में बनेंगे ‘बीजेपी के कप्तान’?



जनसंदेश न्यूज़

नई दिल्ली। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली ने बीजेपी नेतृत्व से यह साफ कर दिया है कि वें राजनीति के मैदान में नहीं उतरने वाले है। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बंगाल टाइगर नाम से मशहूर दादा यानी कि सौरभ गांगुली ने बीजेपी नेतृत्व को बता दिया है कि वह ना तो राजनीति में उतरना चाहते हैं और ना ही विधानसभा चुनाव के दौरान पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करेंगे। हालांकि सौरभ गांगुली ने अभी भी इस पर सार्वजनिक रूप से कुछ नहीं कहा है। 

द टेलिग्राफ के ऑनलाइन संस्करण ने सूत्रों के हवाले से यह खबर दी है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सौरव गांगुली ने भाजपा को अपने मन की बात बता दी है। उन्होंने पिछले महीने यह साफ कर दिया है कि वह एक्टिव पॉलिटिक्स में शामिल नहीं होना चाहते हैं और क्रिकेट प्रशासक के तौर पर अपनी भूमिका से खुश हैं। सूत्रों ने यह भी बताया कि गांगुली की ओर से इनकार किए जाने के बाद पार्टी ने उनपर मन बदलने के लिए कोई दबाव नहीं डाला है। 

आपको बता दें कि 2019 लोकसभा चुनाव में अभूतपूर्व प्रदर्शन करके ममता बनर्जी की अगुआई वाली तृणमूल कांग्रेस को झटका देने वाली बीजेपी इस बार विधासनभा में बहुमत के लिए जोर लगा रही है। हालांकि, पार्टी को इसके लिए किसी ऐसे चेहरे की तलाश है जिसे ममता बनर्जी को टक्कर दे सके। पार्टी ने सौरव गांगुली पर दांव लगाने का प्लान बनाया था। लोकसभा चुनाव के समय भी काफी अटकलें लगी थीं।



Popular posts from this blog

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल

साली के प्यार में आकर जीजा ने पत्नी और बेटी की कर दी निर्मम हत्या, 10 साल पहले किया था लव मैरिज

केन्द्र सरकार ने जारी की अनलॉक 5 की गाइडलान, इस तारीख से पूरे देश में खुलेंगे सिनेमा हॉल