इलाज के अभाव में मासूम ने तोड़ा दम, आक्रोशित ग्रामीणों ने विधायक आवास घेरा

हॉस्पिटल कर्मचारियों पर कार्रवाई की मांग  



अजय सिंह उर्फ राजू

गाजीपुर। जिला चिकित्सालय में इलाज के दौरान एक मासूम की मौत का मामला सामने आया है। आक्रोशित परिजनों संग ग्रामीणों ने सदर विधायक के घर पहुंचकर जमकर हंगामा किया। उन्होंने मासूम का शव लेकर लापरवाह चिकित्सक के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग करने लगे।  विधायक ने लापरवाह कर्मचारियों पर कार्रवाई का आश्वासन दिया जिसके बाद वापस लौटे।  

सदर कोतवाली क्षेत्र के सकरा गांव निवासी सुभाष बिंद की 25 दिन के मासूम की तबीयत  खराब थी। सोमवार की भोर में जिला अस्पताल  इलाज कराने पहुंचे। जहां इमरजेंसी वार्ड में तैनात स्वास्थ्य कर्मचारी ने  मासूम को चिकित्सक से दिखाने के बजाय रेफर कर दिया। इस दौरान वहां से निकलते ही मासूम की मौत हो गई। आक्रोशित परिजन एवं गांव  के लोग मासूम का शव लेकर सदर विधायक संगीता बलवंत के आवास पर पहुंचे। वहां जमकर हंगामा किए और चिकित्सक के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे। 

पीड़ित पिता सुभाष राम ने बताया कि मासूम की मौत चिकित्सक की लापरवाही से हुई है। यदि समय से इलाज हो जाता तो हमारा बच्चा आज हमारे पास रहता। वहीं मासूम की मौत के बाद सैकड़ों की संख्या में आक्रोशित ग्रामीण विधायक आवास पर शव को लेकर पहुंचे और चिकित्सक के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे। विधायक संगीता बलवंत ने सीएमएस डा. निसार अहमद को बुलाया और तीन दिन में जांच कर उक्त चिकित्सक के खिलाफ जल्द कार्रवाई करने को कहा।  





Popular posts from this blog

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी

फरवरी में होगा पंचायत चुनाव! यूपी बोर्ड की परीक्षाएं मार्च के बजाय अप्रैल में होने की चर्चा

ग्राम प्रधानों को दी गई राशि की जांच करेगी योगी सरकार, कार्यकाल में हुए सभी खर्च की कराई जायेगी आॅडिट