असलहे की नोंक पर वेस्टर्न यूनियन संचालक से डेढ़ लाख की लूट, 15 दिन में दूसरी लूट, एसओ निलंबित



अमित राय

माहुल/आजमगढ़। शनिवार की देर रात अहिरौला थाने के माहूल पवई मार्ग पर स्थित पावर हाउस के पास दो बाइक पर सवार चार असलहाधारी बदमाशों ने वेस्टर्न यूनियन संचालक से डेढ़ लाख नकदी व मोबाइल लूट कर फरार हो गये घटना की सूचना पर पुलिस अधीक्षक, एसपी ग्रामीण व सीओ घटना स्थल पर पहुंचे और तुरन्त घटना के अनावरण व लूटेरों की गिरफ्तारी का निर्देश देते हुए तत्कालीन थानाध्यक्ष ब्रम्हदीन पाण्डेय को कप्तान ने लाइन हाजिर कर दिया।    

अहरौला थाना क्षेत्र के मखदूमपुर निवासी हाफिज अलीमुल्लाह पुत्र वलीउल्लाह फूलपुर रोडवेज पर दुकान खोलकर वेस्टर्न यूनियन व ट्रेवेल्स एजेन्सी का संचालन करते हैं। प्रतिदिन की भांति वह अपनी दुकान बंद करके अपनी बुलेट मोटर साइकिल से घर जा रहे थे। जैसे ही ये माहुल पवई मार्ग पर पावर हाउस के पास पहुचे पीछे से ओवरटेक कर के दो बाइकों पर सवार 4 बदमाशो ने उन्हें रोक दिया और तमंचा सटा दिया। उसके बाद बदमाशों ने उनके बुलेट की चाभी निकाल कर फेंक दिया। तथा जैकेट की जेब मे रखे ढेड़ लाख रुपये व दो मोबाइल आदि लेकर तमंचा लहराते हुए फरार हो गए। रात में ही सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण सिद्धार्थ, क्षेत्राधिकारी बूढ़नपुर मौके पर पहुँचे और घटना स्थल पर पहुच कर घटना के संबंध में जांच पड़ताल करते हुए घटना के सम्बंध में अज्ञात चार बाइक सवार बदमाशों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराते हुये थानाध्यक्ष अहरौला को लाइन हाजिर कर दिया। तथा घटना के खुलासा हेतु चौकी प्रभारी माहुल शैलेष यादव व अधिनस्थों को घटना का तत्काल खुलासा करने का निर्देश दिया।

15 दिनों में अहिरौला में हुई दूसरी लूट की घटना

आजमगढ़। अहिरौला थाना अन्तर्गत 15 दिनों में दूसरी लूट की घटना को अंजाम देकर लूटेरों ने जहां जनपद पुलिस को खुली चुनौती दे दी तो वहीं पुलिस के लाख प्रयास के बाद भी अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहा है। गत सात नवम्बर को जनसेवा केन्द्र संचालक से ढाई लाख की लूट हुई थी तो 15 दिनों के अन्दर डेढ़ लाख की लूट की घटना को अंजाम देकर बदमाशों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी यह अलग बात है कि जनसेवा संचालक लूट काण्ड में पुलिस ने दो लूटेरों को गिरफ्तार कर लूट के आंशिक रुपये बरामद कर वाहवाही तो लूट ली लेकिन रविवार की रात लूटेरों द्वारा दूसरी घटना को अंजाम देकर पुलिस की पोल को खोल दी। तत्कालीन थाना प्रभारी ब्रम्हदीन पाण्डेय को पुलिस कप्तान द्वारा तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर तो कर दिया गया लेकिन क्या अपराधिक घटनाओं पर लगाम लगाने पर यह कार्रवाई कारगर साबित होगी।


Popular posts from this blog

'चिंटू जिया' पर लहालोट हुए पूर्वांचल के किसान

दहेज के लिए मां को किया बच्चों से दूर, मधुर तरंग होटल मालिक पर गंभीर आरोप, रसूख के दबाव में काम कर रही पुलिस

नये साल में इसी माह से काशीवासियों को मिलने लगेगी अनेकों सौगात, पढ़िए