बड़ी खुशखबरी: अगले महीने से भारत के 10 करोड़ लोगों को कोरोना की एंटीडोज, दिसंबर से टीकाकरण प्रारंभ!



जनसंदेश न्यूज़

नई दिल्ली। दिवाली के ठीक पहले देशवासियों को बड़ी खुशखबरी मिली है। कोरोना से जंग के बीच अगले महीने 10 करोड़ भारतीयों को कोरोना की एंटीडोज दी जायेगी। दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी दिसंबर तक भारत को एस्ट्राजेनेका कोविड-19 टीके के 10 करोड़ डोज भारत को उपलब्ध कराने की तैयारी में है। 

कंपनी के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा है कि यदि फाइनल स्टेज ट्रायल के डेटा में यह वैक्सीन प्रभावी पाई जाती है तो सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया लिमिटेड को आपतकालीन मंजूरी मिल सकती है। सीरम इंस्टीट्यूट ने एस्ट्राजेनेका के साथ कम से कम 1 अरब डोज तैयार करने का समझौता किया है।

पूनावाला ने गुरुवार को एक इंटरव्यू में कहा कि शुरुआत में वैक्सीन भारत को दिया जाएगा। अगले साल की शुरुआत में पूर्ण मंजूरी के बाद दक्षिण एशियाई देशों और कोवाक्स के साथ 50-50 आधार पर वितरण हो सकेगा। कोवाक्स की ओर से करीब देशों के लिए कोरोना वैक्सीन की खरीद की जा रही है। सीरम ने पांच वैक्सीन डिवेलपर्स के साथ समझौता किया है। कंपनी पिछले दो महीनों में एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के 4 करोड़ डोज तैयार कर चुकी है और नोवावाक्स इंक के टीके का उत्पादन भी जल्द शुरू करने का लक्ष्य है।

39 वर्षीय पूनावाला ने कहा, कोविड-19 वैक्सीन के लिए दुनिया भारत की ओर देख रही है, जहां सबसे अधिक वैक्सीन उत्पादन की क्षमता है। एस्ट्राजेनेका के सीईओ पासकल सोरियट ने कहा कि वह दिसंबर से बड़े पैमाने पर टीकाकरण की तैयारी कर रहे हैं। एक बार यदि ब्रिटेन से इसे आपातकालीन मंजूरी मिल जाती है, सीरम उसी डेटा को भारतीय समकक्ष को सौंपेगी। हालांकि पूनावाला ने यह भी कहा कि पूरी दुनिया को 2024 तक ही टीका मिल पाएगा और दो साल यह देखने में लगेगा संक्रमण में वास्तव कितनी कमी आई है। 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल