मुख्यमंत्री कंट्रोल रूम सहित डिप्टी सीएम, दो दर्जन मंत्री व 60 से अधिक विधायकों की बिजली कटी, मचा हड़कंप

आनन-फानन में दो घंटे बहाल हुई बिजली व्यवस्था



जनसंदेश न्यूज़
लखनऊ। बिजली कर्मियों के हड़ताल के बीच सोमवार को पूरे यूपी में विद्युत व्यवस्था चरमराई हुई है। हालांकि इसके लिए प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किये थे, लेकिन कई इलाकों में लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। दूसरी तरफ बिजलीकर्मियों के कार्य बहिष्कार की वजह से राजधानी के कई पॉश इलाकों की बिजली सप्लाई ठप हो गई। 


बिजली कट जाने से मुख्यमंत्री कंट्रोल रूम सहित डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, स्वामी प्रसाद मौर्या, मोहसिन रजा सहित दो दर्जन मंत्री, 60 से अधिक विधायकों व विधान परिषद सदस्यों समेत कई पूर्व मंत्रियों, न्यायाधीश, कांग्रेस मुख्यालय, वीआईपी गेस्ट हाउस, मुख्यमंत्री कंट्रोल रूम की बिजली भी बिजली भी गुल हो गई। बिजली गुल होते ही हंगामा मच गया। करीब दो  दो घंटे की मशक्कत के बाद मध्यांचल निगम के निदेशक ने बिजली सप्लाई बहाल कराई।



दरसअल कूपर रोड उपकेंद्र की बिजली सप्लाई सुबह 11 बजे ठप हो गई। इस वजह से विक्रमादित्य मार्ग, माल एवेन्यू, गुलिस्तां कॉलोनी, महिला विधायक आवास, पीडब्ल्यूडी कॉलोनी सहित कई वीआईपी इलाकों की बिजली सप्लाई बाधित हो गई। बिजली गुल होते ही कई मंत्रियों और विधायकों के फोन उपकेंद्र से लेकर अधिकारियों तक पहुंचने लगे। दूसरी तरफ बिजली अभियंताओं ने कार्य बहिष्कार का हवाला देकर बिजली ठीक करने से साफ मना कर दिया। आनन-फानन में मध्यांचल निगम के निदेशक (तकनीकी) उपकेंद्र पहुंचे और दो घंटे की मशक्कत के बाद बिजली सप्लाई बहाल की गई। 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल