मोगा में 'खेती बचाओ यात्रा' में राहुल गांधी का मोदी सरकार पर बड़ा प्रहार, सत्ता में आते ही कूड़ेदान में फेंक देंगे तीनों कृषि कानून



 मोगा। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार पर हमला किया। उन्होंने रविवार को मोगा में 'खेती बचाओ यात्रा' के दौरान कहा कि सत्ता में आते ही तीनों कानूनों को कूड़ेदान में फेंक दिया जाएगा। राहुल गांधी ने कहा, मैं आपको गारंटी देता हूं कि जिस दिन कांग्रेस पार्टी सत्ता में आती है, हम तीनों काले कानूनों को खत्म कर कूड़ेदान में फेंक देने वाले है। राहुल गांधी ने कहा कि अगर किसान इन कानूनों से खुश हैं, तब वे देशभर में विरोध प्रदर्शन क्यों कर रहे हैं? पंजाब में सभी किसान विरोध क्यों कर रहे हैं। राहुल गांधी ने हाथरस की यात्रा का ज्रिक कर कहा कि मैं हाथरस था, जहां पर एक बेटी की हत्या कर दी गई। जिन्होंने उस मारा, उसके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया गया। परिवार जिसकी बेटी की हत्या हुई, उसी को घर में बंद कर दिया गया। डीएम और सीएम ने धमकी दी। भारत में ये हालात हैं। अपराध करने वालों को कुछ नहीं होता है, लेकिन पीड़ित के खिलाफ ही कार्रवाई कर दी जाती है।


राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पिछले 6 सालों से जनता से झूठ बोल रहे है। अगर किसानों के लिए ही ये कानून बनाया गया है, तब किसान ही इसका विरोध क्यों कर रहे है। किसानों द्वारा किए जा रहे इस आंदोलन का कांग्रेस पार्टी पूरा समर्थन करती है। राहुल गांधी ने कहा कि इन कानूनों की मदद से 23 अरबपतियों की नजर किसानों की जमीन और फसल पर है। बिल कोरोना काल में लागू करने की क्या जरूरत थी। हम किसानों के साथ हैं, किसानों को खत्म नहीं होने देने वाले है। मंच पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी जनता को कहा कि राहुल गांधी किसानों के साथ है, इस बिल के द्वारा लोगों को केंद्र सरकार गुमराह कर रही है, शुरू से ही अकाली भाजपा सरकारों पर कभी भरोसा नहीं किया जा सकता क्योंकि हरसिमरत कौर बदल ने संसद में कभी इससे पहले कृषि बिल का विरोध नहीं किया। 


कांग्रेस नेता ने कहा कि वे पंजाब के किसानों को भरोसा दिलाना चाहते हैं कि कांग्रेस देश भर के किसानों के साथ खड़ी है, कांग्रेस एक इंच भी अपने वादे से पीछे नहीं हटने वाली है। राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार एमएसपी को खत्म करना चाहती है,मोदी सरकार चाहती है कि खेती का पूरा बाजार अंबानी और अंडानी के हवाले कर दिया जाए, लेकिन कांग्रेस पार्टी ऐसा नहीं होने देगी। राहुल ने कहा कि कोरोना काल में इन तीन कानूनों को लागू करने की क्या जल्दबाजी थी।
रविवार से शुरू हुई तीन दिवसीय ट्रैक्टर रैलियों का नेतृत्व कर रहे हैं। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, कांग्रेस महासचिव एवं पंजाब मामलों के प्रभारी हरीश रावत, पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़, राज्य के वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल और अन्य नेता भी रैली में शामिल होने के लिए मोगा पहुंचे। 'खेती बचाओ यात्रा' के नाम से निकाली जा रही ट्रैक्टर रैलियां करीब 50 किलोमीटर से अधिक दूरी तय करेगी और विभिन्न जिलों तथा निर्वाचन क्षेत्रों से गुजरेंगी। उल्लेखनीय है कि नए कृषि कानूनों का पंजाब के किसान विरोध कर रहे हैं। 


 


Popular posts from this blog

ब्लाक प्रमुख को सरेराह गोलियों से भूना, ताबड़तोड़ फायरिंग से इलाके में सनसनी

1.5 करोड़ लेकर पत्नी ने किया पति का सौदा, किया प्रेमिका के हवाले

मेरी करनी का फल है लिखकर महिला दरोगा ने फंदे पर झूलकर दी जान