मायावती की केंद्र सरकार से मांग, सीएम योगी आदित्यनाथ को हटाकर मठ में वापस बैठा दें


उत्तर प्रदेश में महिलाओं व युवतियों के साथ हो रही घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। हाथरस के बाद बलरामपुर में हुई दलित छात्रा के साथ दरिंदों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी हैं। छात्रा से गैंगरेप के बाद उसकी कमर और पैर तोड़ दिए गए। घायल हालत में घर पहुंची पीड़िता की अस्पताल ले जाने के दौरान मौत हो गई। यूपी की इन दो दिल दहलाने देने वाली घटनाओं के बाद मायावती ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला बोला है। मायावती ने केंद्र से मांग की कि सीएम योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री पद से हटकर वापस उनके मठ में भेजें। बसपा सुप्रीम मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि हाथरस की घटना के बाद मुझे ऐसा लग रहा था कि शायद यूपी सरकार कुछ हरकत में आएगी। यूपी के मनचले लोग जो बहन-बेटियों का उत्पीड़न कर रहे हैं, उन पर अंकुश लगाएगी, पर ऐसा नहीं हुआ।


आज सुबह मैंने बलरामपुर की एक घटना न्यूज़ में देखी जिसने मुझे झकझोर कर रख दिया। मायावती ने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश में वर्तमान भाजपा सरकार में कानून का नहीं बल्कि गुंडों, बदमाशों, माफियाओं, बलात्कारियों एवं अन्य अराजक तत्वों का राज चल रहा है। यहां की कानून व्यवस्था पूरी तरह से दम तोड़ चुकी है। खासकर इस सरकार में यहां की बहन-बेटियां बिलकुल सुरक्षित नहीं है। मायावती ने कहा कि आरएसएस के दबाव में बीजेपी ने योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री तो बना दिया, लेकिन अब उनसे प्रदेश नहीं संभल रहा है। उन्होंने केंद्र सरकार से मांग की कि सीएम योगी आदित्यनाथ को हटाकर किसी अन्य को मुख्यमंत्री बनाया जाए।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल