इंडिया के इस राज्य में नौकरियां ही नौकरियां, कृषि-पर्यटन क्षेत्र से जुड़े 10 लाख लोगों को मिलेगा जॉब

योजना के तहत कृषि पर्यटन और ग्रामीण पर्यटन को दिया जाएगा प्रोत्‍साहन



नई दिल्ली। कोरोना संकट (Coronavirus Crisis) के चलते हर रोज छंटनी और सैलरी कटौती ने बेहाल लोगों के लिए अच्छी खबर है। कर्नाटक सरकार अब नई कृषि नीति लागू करेगी। साथ ही गांवों में पर्यटन टूरिज्म भी शुरू करेगी। बीएस येडियुरप्‍पा सरकार (Yediyurappa Government) ने आगामी पांच साल में 5,000 करोड़ के नए निवेश का लक्ष्‍य तय किया रखा है।


कर्नाटक सरकार का कहना है कि इससे दोनों सेक्‍टर्स में प्रत्‍यक्ष और अप्रत्‍यक्ष तौर पर 10 लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। सरकार का कहना है कि नई नीति का मकसद 2025 तक राज्‍य की जीडीपी में दोनों सेक्‍टर्स के योगदान को 20 फीसदी तक पहुंचाने का है। सरकार की ओर से कहा गया है कि कृषि पर्यटन (Agri Tourism) और ग्रामीण पर्यटन (Rural Tourism) को बढ़ावा देना सरकार का मकसद है। इससे स्‍थानीय खानपान, संस्‍कृति, परंपरा और कला को भी बढ़ावा दिया जाएगा।


येडियुरप्‍पा सरकार ने निवेश जुटाने और नई नौकरियां पैदा करने को नई औद्योगिक नीति तैयार की है। इसमें राज्‍य में निवेश करने वालों को कई तरह की छूट का प्रावधान किया गया है। अगले पांच साल में 409.5 करोड़ का अनुदान देने का लक्ष्‍य है। उम्‍मीद है कि अनुदान से कर्नाटक को कम से कम 2,789 करोड़ का निवेश मिलेगा। नई योजना का ऐलान ऐसे समय में किया गया है, जब देश में पूंजी निवेश की जरूरत महसूस की जा रही थी।



Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल