गंगा की लहरों पर धमाल मचाएगा 100 सीटर क्रूज, नवंबर से शुरू होगा संचालन

- उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग की ओर से नवंबर से आरंभ होगा संचालन


- गोवा में बनकर तैयार हो चुका है नया क्रूज, कुछ औपचारिकताएं शेष



सुरोजीत चैटर्जी
वाराणसी। बाबा विश्वनाथ की नगरी में गंगा में एक और क्रूज के संचालन की तैयारी है। नवंबर माह से यह इसे आरंभ किया जाएगा। लगभग सौ सीटर की क्षमता वाले इस क्रूज का निर्माण हो चुका है। इसका नामकरण होना है। उत्तर प्रदेश पर्यटन की ओर से यह क्रूज चलाया जाएगा।


यहां गंगा में फिलहाल प्राइवेट सेक्टर का क्रूज ‘अलकनंदा’ लगभग दो साल से संचालित हो रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस क्रूज का उद्घाटन करने के बाद पहली यात्रा खिड़किया घाट से डोमरी तक की थी। उस दौरान उन्होंने डोमरी में चौपाल भी लगायी थी। डबल फ्लोर के एयरकंडीशंड ‘अलकनंदा’ का संचालन आरंभ होने के बाद देशी-विदेशी पर्यटक नौका विहार के अलावा क्रूज के प्रति भी अच्छी-खासी दिलचस्पी लेने लगे और पर्यटकों को आकर्षित करने में यह पहल बेहद कारगर साबित हुई।


अब नयी कवायद के तहत पर्यटन विभाग अपने स्तर पर नया क्रूज संचालित कराने की तैयारी में है। गोवा में यह क्रूज बनकर तैयार हो चुका है। इसके लिए नाममात्र की औपचारिकताएं शेष रह गई हैं जिनमें क्रूज का नामकरण भी होना है। लगभग सौ सीट की क्षमता का यह क्रूज दो मंजिला होगा। पर्यटन अधिकारी कीर्तिमान श्रीवास्तव ने जानकारी देते हुए बताया कि महकमे की ओर से संचालित होने वाला नया क्रूज आरंभिक चरण में राजघाट से अस्सी घाट तक संचालित कराया जाएगा। नये क्रूज में भी विभिन्न इवेंट भी आयोजित हो सकेंगे। बनारस में गंगा में दो क्रूज का संचालन एकसाथ होने पर पर्यटन के क्षेत्र में न सिर्फ नया उत्साह आएगा बल्कि बोटिंग के लिए टूरिस्ट के पास विकल्प भी रहेंगे। श्री श्रीवास्तव ने बताया कि नये क्रूज की सवारी के लिए टिकट का रेट भी तय होना है।



 


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल