दुष्कर्म के बाद हुई हत्या मामले को डकार गई कुड़वार पुलिस, रात में ही जबरन अंतिम संस्कार करा डाली मित्र पुलिस


 


सुल्तानपुर। रेलवे ट्रैक पर मिली युवती की लाश के मामले में नया मोड़ सामने आ गया हैं। युवती के भाई ने बहन के साथ गैंगरेप होने का आरोप लगाते हुए एक युवक समेत अन्य के खिलाफ कुड़वार थाने में तहरीर दिया लेकिन रिपोर्ट दर्ज करने के बजाय पीएम रिपोर्ट सामने आने की बात कह कर  टाल मटोल एसओ कर रहे हैं।यही नही दुष्कर्म पीड़िता के शव का देर रात अंतिम संस्कार किया गया।


पूरा मामला कुड़वार थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली युवती का एक युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। मंगलवार की देर शाम युवती का शव रेलवे ट्रैक पर मिला था। दूसरी तरफ युवती की आरोपी प्रेमी के साथ 29 सितंबर की शाम आखिरी बार फोन पर हुई बातचीत का ऑडियो वायरल हुआ है।वायरल ऑडियो में स्पष्ट तौर पर युवती यह कहती सुनाई पड़ रही है कि कुछ लोग उसका पीछा कर रहे हैं। 
वही डॉक्टरों ने युवती के शव का पोस्टमार्टम करते हुए दुष्कर्म की आशंका पर स्लाइड सुरक्षित रख ली है। स्लाइड को जांच के लिए भेज दिया है।


उधर दडॉक्टरों ने दुष्कर्म की हत्या की आशंका व्यक्त होने के बाद भी तहरीर पर  कुड़वार थाने के एसओ अरविंद पाण्डेय ने मुकदमा दर्ज न करके अपराधियो को संरक्षण  देने का काम कर रहे है। बता दे कि अभी कुछ दिनों पहले बंधुआकला चौकी क्षेत्र में दलित युवती से दुष्कर्म करने के बाद रिपोर्ट न दर्ज करने का मामला सामने आया था।जब मीडिया में मामला आया तो सीओ जांच करने पहुंचे बमुश्किल रिपोर्ट तो दर्ज हो गई,आरोपी अभी भी पकड़ से दूर है।देखा जाय तो जबसे एसओ अरविंद पांडेय कमान संभाले है तब से जमीनों पर कब्जे का सिलसिला तेज हुआ है।कभी पत्रकार को तो कभी फौजी को धमकी मिलती रही हैं एक्शन आरोपी के बजाय पीड़ित पर लेते रहे हैं।इस घटना में तो रिपोर्ट ही नही दर्ज की गई हैं जबकि पीड़िता का भाई एसपी ग्रामीण से मिला था तो यह आश्वासन दिया गया था कि पीएम रिपोर्ट के बाद रिपोर्ट दर्ज करने के साथ ही आरोपी सलाखों के पीछे होगा।यहाँ मित्र पुलिस अपराधों को मिनिमाइज करने में जुटी हैं। ऐसे में यह कहा जाय कि सुल्तानपुर पुलिस बेटियों के साथ हो रहे अन्याय में न्याय दिलाने के बजाय हाथरस जैसी बड़ी घटना को बढ़ावा देने में लगी है।वही सीओ नगर का कहना है कि परिजनों ने अंतिम संस्कार खुद स्वेच्छा से किया हैं।


Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल