पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के आवंटित भूमि पर पोखरा की खुदाई, शौचालय निर्माण में घटिया सामग्री का प्रयोग

शिकायतकर्ता जांच से असंतुष्ट, कोर्ट की तैयारी



अजय सिंह उर्फ राजू

बाराचवर/गाजीपुर। विकासखंड स्थित नसीरपुर गंधपा गांव की जांच में घोटाला सामने आया है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के आवंटित भूमि में प्रधान ने पोखरा की खुदाई करवाई है। यह खुलासा शिकायतकर्ता के आधार पर  जिलाधिकारी द्वारा नामित जांच अधिकारी के निरीक्षण में हुआ है।  

गावं निवासी जयश्री यादव ने ग्राम प्रधान के खिलाफ पोखरी की खुदाई में अनियमितता को लेकर जिलाधिकारी से शिकायत किया था। जिलाधिकारी एमपी सिंह द्वारा नामित जांच अधिकारी लघु सिंचाई विभाग के अधिकारी ने मौके का निरीक्षण किया। जहां शिकायतकर्ता जय श्री यादव ने जांच अधिकारी को गोरिल बाबा की पोखरी दिखाई। जांच अधिकारी जब उक्त पोखरी के रकबा पर पहुंचे तो वह भूमि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे में मिली। वहीं शौचालय निर्माण से लेकर आवंटित लाभार्थियों की भी जांच की गई। 

वहीं इस संबंध में लघु सिचाई विभाग के अधिकारी ने बताया कि इस पोखरी के रकबा की भूमि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे में आवंटित कर दी गई थी।  जिसके बाद भी ग्राम प्रधान ने इस पोखरी की खुदाई करवाई है। जिसकी जांच रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंप दी जाएगी। इधर शौचालय निर्माण को लेकर की गई जांच में बताया कि शौचालय निर्माण बेहद घटिया सामग्री से हुआ हैं। सफेद बालूका प्रयोग किया गया है। उन्होंने बताया कि 154 की लिस्ट हमें ब्लॉक कार्यालय से मिली है जिसमे से 149 पूर्ण है और 5 निमार्णाधीन हैं। हालांकि यह लिस्ट में नहीं मिला कि जो पांच शौचालय निमार्णाधीन हैं वह किसके हैं?

ग्राम प्रधान जितेंद्र यादव ने पोखरी खुदाई पर सफाई देते हुए कहा कि  इस कार्य के दौरान विभाग से हमें कोई नोटिस नहीं मिला। इसके साथ ही किसी अधिकारी ने कार्य रोकने को भी नहीं कहा।  

शिकायतकर्ता जय श्री यादव ने बताया कि शौचालय की जो लिस्ट इंटरनेट पर है।  उससे जांच अधिकारी की लिस्ट मिलान नहीं हो रही है।  बहुत से अपात्र लोगों को भी शौचालय का धन दिया गया है। कहा कि जांच से हम संतुष्ट नहीं है और जरूरत पड़ी तो हम कोर्ट भी जाएंगे।




Popular posts from this blog

यूपी में होगी नौकरियों की बारिश, तीन लाख युवाओं को मिलेगी नौकरी, जानिए किस विभाग में है कितना पद खाली?

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी में अगले तीन महीनों में सभी खाली पदों पर भर्तियां, छह महीनों में नियुक्ति के निर्देश

यूपी में नौकरियों की भरमार, अपनी दक्षता के अनुरूप जॉब तलाशेें युवा, यहां देखें पूरा डिटेल